Monday , December 18 2017

सऊदी में सारस (SARS) वायरस से ख़ौफ़-ओ-हिरास

रियाद, लंदन, 14 मई: (ए एफ पी ए पी ) सऊदी अरब के मशरिक़ी हिस्से में आज अवाम में ख़ौफ़-ओ-हिरास की कैफ़ियत देखने में आई जहां मोहलिक वबा के कई केसों का पता चला है , ऐनी शाहिदीन ने ये बात कही जबकि सलतनत में सारस (SARS) जैसे वायरस से होने वाली अम्वात 15 तक

रियाद, लंदन, 14 मई: (ए एफ पी ए पी ) सऊदी अरब के मशरिक़ी हिस्से में आज अवाम में ख़ौफ़-ओ-हिरास की कैफ़ियत देखने में आई जहां मोहलिक वबा के कई केसों का पता चला है , ऐनी शाहिदीन ने ये बात कही जबकि सलतनत में सारस (SARS) जैसे वायरस से होने वाली अम्वात 15 तक पहुँच चुकी हैं।

मशरिक़ी सूबा के शहर अल हसा के दवाख़ानों में मुतअद्दिद लोग इमरजेंसी ख़िदमात के शोबा से रुजू हो रहे हैं क्योंकि कोई भी शख़्स बुख़ार की मामूली कैफ़ियत पर भी कोई जोखिम मोल लेना नहीं चाहता है । बताया जाता है कि सर्दी के साथ बुख़ार की अलामात ज़ाहिर होने पर लोग दवाख़ानों से रुजू हो रहे हैं जिन्हें अलग अलग रख कर ईलाज किया जा रहा है ।

इस दौरान चीन में नए बर्ड फ़लू से सेहत हुक्काम बदस्तूर परेशान हैं क्योंकि कम अज़ कम मार्च से पूरे मुल्क में 131 केसों के मिनजुमला 32 अम्वात ( मौतें) दर्ज हो चुकी हैं। सारस जैसा वायरस और चीन का नया बर्ड फ़लू H7N9 आलमी सेहत हुक्काम के लिए तशवीश बनते जा रहे हैं और ज़रूरी एहतियाती इक़दामात पर तवज्जा दी जा रही है ।

हुक्काम की कोशिश है कि मशरिक़ वुसता और चीन से इन बीमारियों के दुनिया के दीगर खित्तों में फैलाव को जल्द से जल्द रोका जाये । सारस का केस फ़्रांस में भी नोट किया गया है जहां एक मरीज़ को ये बीमारी शायद दुबई से लाहक़ हुई ।

TOPPOPULARRECENT