Monday , July 23 2018

सऊदी हाउज़िंग कामप्लेक्स पर हमले का मुल्ज़िम गिरफ़्तार

रियाज़: सऊदी अरब में 1996 के दौरान एक हाउज़िंग कामप्लेक्स पर बमबारी के मुश्तबा मुल्ज़िम को तक़रीबन दो दहाईयों बाद आज पकड़ लिया गया। इस हमले में अमरीकी फ़िज़ाईया की 19 अहलकार हलाक हो गए थे। मुल्ज़िम अहमद इबराहीम अलमग़सल जो अमरीकी वफ़ाक़ी तहक़ीक़ाती इदारा (एफ़ बी आई) को मतलूब था।

बावर किया जाता है कि सऊदी अरब में हिज़्बुल्लाह के अस्करी शोबे का सरबराह था। ये एक ममनूआ तंज़ीम है जिनके अरकान ने ममलकत सऊदी अरब की शीया मुस्लिम बिरादरी के अफ़राद शामिल हैं। 48 साला अहमद इब्राहीम को बेरूत में गिरफ़्तार किया गया था जिसके बाद सऊदी अरब मुंतक़िल किया गया है जहां इस से पूछगिछ जारी है।

हुकूमत सऊदी अरब के सरकारी अख़बार अलशरक़ अलावसर की इस ख़बर की सऊदी हुक्काम ने फ़ौरी तौर पर तौसीक़ नहीं की। जून 1996 के ज़हरान में 8 मंज़िला अलख़ोबर टावर्स पर हुए इस तबाहकुन बम धमाके में अमरीकी फ़िज़ाईया के 19 अहलकार हलाक और दीगर 370 अफ़राद ज़ख़मी हो गए थे। अमरीकी वुकला इस्तिग़ासा ने कहा है कि अलमग़सल ने धमाको मवाद से लदी लारी को वहां लाया था और ये लारी फ़ौजी कंपाउंड के बाहर पार्क की गई थी।

TOPPOPULARRECENT