Wednesday , December 13 2017

सचिन तेंदुल्कर वनडे क्रिकेट से अलग‌

क्रिकेट के अज़ीम बल्लेबाज़ सचिन तंदुलकर आज वनडेर इंटरनेशनल क्रिकेट से सबकदोश होगए हैं। इस तरह उनके 23 साला तवील शानदार और बहतरीन कैरियर का इख़तताम अमल में आया । इस कैरियर के दौरान उन्होंने अपने बेमिसाल कारनामों से क्रिकेट की तारीख

क्रिकेट के अज़ीम बल्लेबाज़ सचिन तंदुलकर आज वनडेर इंटरनेशनल क्रिकेट से सबकदोश होगए हैं। इस तरह उनके 23 साला तवील शानदार और बहतरीन कैरियर का इख़तताम अमल में आया । इस कैरियर के दौरान उन्होंने अपने बेमिसाल कारनामों से क्रिकेट की तारीख बदल कर रख दी है ।

39 साला सचिन तंदुलकर ने सुबकदोशी के अपने फैसले से बी सी सी आई को वाक़िफ़ करवा दिया है । बी सी सी आई ने उन की जानिब से एक बयान जारी करते हुए सुबकदोशी का एलान किया है । बल्लेबाज़ ताहम टेस्ट क्रिकेट खेलना जारी रखेंगे । सचिन का बयान क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की तरफ‌ से जारी किया गया । इस ब्यान में सचिन का ये कहते हुए हवाला दिया गया कि मैंने खेल के वनडे फॉर्मेट‌ से सबकदोशी का फैसला किया है ।

वो वर्ल्ड कप जीतने वाली हिंदूस्तानी क्रिकेट टीम का हिस्सा रहने पर ख़ुद को ख़ुश नसीब समझते हैं। वर्ल्ड कप 2015 में हिंदूस्तान को अपने ख़िताब के दिफ़ा की त्यारियां जल्द शुरू कर देनी चाहिये और ये तैयारीयाँ दुरुस्त‌ सिम्त में होनी चाहिए।

सचिन ने कहा कि वो चाहते हैं कि हिंदूस्तानी टीम को मुस्तक़बिल के लिए नेक तमन्नाओं का इज़हार करें। वो अपने तमाम बही ख्वाहों से भी दिली इज़हार-ए-तशक्कुर करते हैं जिन्होंने उनके तवील कैरियर के दौरान उनसे ग़ैरमशरूत ताईद की है और उनपर
मुहब्बतें निछावर की हैं।

तेंदुलकर‌ को असरी क्रिकेट में एक मुकम्मल बल्लेबाज़ समझा जाता है । वो सब से ज़्यादा रंस‌ बनाने वाले बल्लेबाज़ों की फ़हरिस्त में अव्वल नंबर पर हैं और एक अच्छे वक़्त में उन्होंने अपने कैरियर को ख़त्म करने का फैसला किया है । सचिन तेंदुलकर‌ ने
हिंदूस्तान के लिए 463 वनडे मेचस खेले हैं और जुमला 18,426 रंस‌ स्कोर किए हैं। इनका औसत 44.83 रहा है । वनडे क्रिकेट में हिंदूस्तानी मास्टर ब्लास्टर ने बेमिसाल कारकर्दगी दिखाते हुए जुमला 49 सैंचरीयाँ स्कोर की हैं।

इन में एक वनडे डबल सैंचरी भी शामिल है । अब तक वनडे की तारीख की ये वाहिद डबल सैंचरी है । सचिन ने वनडे क्रिकेट में जुमला 96 निस्फ़ सैंचरीयाँ भी बनाई हैं। तंदुलकर‌ के टसट रिकार्डस‌ भी सब से बहतरीन और शानदार हैं। सचिन ने हिंदूस्तान के लिए 194
टेस्ट‌ मेचस खेले हैं और 54.32 के औसत से उन्होंने जुमला 15,645 रंज़ बनाए हैं।

इन में सचिन की 51 सैंचुरीयाँ और 66 निस्फ़ सैंचुरीयाँ शामिल हैं। सचिन तेंदुलकर‌ ने वनडे क्रिकेट से सबकदोशी का फैसला इसे वक़्त में किया है जब बी सी सी आई ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ वनडे टीम का एलान करना था । ये कयास आराईयां की जा रही थीं कि सचिन पाकिस्तान के ख़िलाफ़ वनडे सीरीज़ में हिस्सा लेंगे ।

गुजिशता कुछ अर्सा से सचिन तेंदुलकर‌ पर दबाव‌ था कि वो क्रिकेट से सबकदोशी इख़तियार करें। उनकी कारकर्दगी गुज़िशता कुछ दिनों से मुतास्सिर रही थी । खासतौर पर टेस्ट‌ क्रिकेट में उन्हें इंग्लैंड के ख़िलाफ़ नाकामी पर दबाव‌ का सामना था । तंदुलकर‌ वनडे क्रिकेट में भी वक़फ़ा वक़फ़ा से ब्रेक ले रहे थे ।

उन्होंने अपना आख़िरी वनडे एशिया कप में मार्च के महीने में खेला था जहां उन्होंने अपनी इंटरनेशनल सैंचुरीयाँ की सैचुरी मुकम्मल करली थी । तेंदुलकर‌ ने अपने वनडे कैरियर का आग़ाज़ 1989 में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ किया था और इत्तिफ़ाक़ की बात ये है कि उन्हों ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ ही सीरीज़ सीएन क़बल सुबकदोशी का फैसला किया है ।

मुंबई से ताल्लुक़ रखने वाले सचिन ने 2006 में सिर्फ़ एक टवन्टी 20 मैच में हिस्सा लिया था उसके बाद से वो इस फॉर्मट से दूर ही रहने को तरजीह देते रहे हैं। अब वो सिर्फ़ टेस्ट‌ क्रिकेट में मैदान पर नज़र आएंगे । सचिन तेंदुलकर‌ के दो दहों से ज़्यादा अर्से पर मुहीत वनडे कैरियर का सब से शानदार लम्हा वो था जब पिछ्ले साल हिंदूस्तान ने वर्ल्ड कप जीता था ।

TOPPOPULARRECENT