Thursday , December 14 2017

सज़ाए मौत को बर्ख़ास्त करदेने करूणानिधि का फिर मुतालिबा

चेन्नाई, 14 अप्रैल (पी टी आई) सज़ाए मौत की बर्ख़ास्तगी के लिए अपने मुतालिबा तजदीद करते हुए डी ऐम के सरबराह ऐम करूणानिधि ने आज रियास्ती काबीनी इजलास के लिए ताज़ा मुहिम शुरू की, ताकि एक क़रारदाद मंज़ूर करते हुए वो सज़ाए मौत को घटा देने की सि

चेन्नाई, 14 अप्रैल (पी टी आई) सज़ाए मौत की बर्ख़ास्तगी के लिए अपने मुतालिबा तजदीद करते हुए डी ऐम के सरबराह ऐम करूणानिधि ने आज रियास्ती काबीनी इजलास के लिए ताज़ा मुहिम शुरू की, ताकि एक क़रारदाद मंज़ूर करते हुए वो सज़ाए मौत को घटा देने की सिफ़ारिश की जाये जो राजीव गांधी क़तल केस में तीन मुजरिमीन को दी गई है।

हमारा मौक़िफ़ ये है कि सज़ाए मौत को मंसूख़ करदेना चाहीए और क़ानून की किताब से हटा देना चाहीए, करूणानिधि ने ये बात कही, संथन और पैरा रियो एलन की सज़ाए मौत को इंसानियत की बुनियादों पर घटा देना चाहीए।

डी ऐम के सरबराह ने कहा कि अगर रियास्ती हुकूमत को इस मसले से हक़ीक़ी माअनों में निमटना है तो उसे सिर्फ़ असेम्बली में क़रारदादों की मंज़ूरी पर इत्तेफाक़‌ नहीं करना चाहीए, बल्कि काबीनी इजलास में क़रारदाद मंज़ूर करके उसे गवर्नर के पास भेजना चाहीए।

TOPPOPULARRECENT