सज्जाद लोन के पिता ही थे जो कश्मीर में पाकिस्तान से बंदूक लेकर आए थे- फारुक अब्दुल्ला

सज्जाद लोन के पिता ही थे जो कश्मीर में पाकिस्तान से बंदूक लेकर आए थे- फारुक अब्दुल्ला

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला अकसर अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में बने रहते हैं। एक बार फिर उन्होंने कश्मीर को लेकर बडा बयान दे दिया है जो एक नए विवाद को पैदा कर सकता है।

फारूक अब्दुल्ला के अनुसार पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर जिसे भारत में पाक अधिकृत कश्मीर के रूप में जाना जाता है वह पाकिस्तान का हिस्सा है।

पूर्व मुख्यमंत्री रविवार को बारामुला में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि नेशनल कांफ्रेंस भारत-पाकिस्तान की दोस्ती के साथ है।

उनका मानना है कि भारत पाकिस्तान की दोस्ती जम्मू कश्मीर के लिए काफी महत्वपूर्ण होगी, जिस दिन दोनों देशों में दोस्ताना संबंध होंगे, तब कश्मीर का मुद्दा भी हल किया जा सकता है।

फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि मैं आज भी कहता हूं कि हम हिंदुस्तान का हिस्सा हैं और कल भी रहेंगे। वह हमेशा से कहते आए हैं कि आजाद कश्मीर उनका हिस्सा है और यह हमारा। हम दोनों देशों के बीच की दीवार को गिराएंगे। दोनों के तरफ के लोगों को मिलने और कारोबार का हक होना चाहिए।

अब्दुल्ला ने सज्जाद लोन के उन पर और उनकी पार्टी पर लगाए हुए आरोपों पर भी पलटवार किया। उन्होंने कहा कि सज्जाद लोन के पिता ही थे जो कश्मीर में पाकिस्तान से बंदूक लेकर आए थे। मेरे मना करने के बाद भी उन्होंने ऐसा किया था।

मैंने उस वक्त भी कहा था कि कश्मीर में बंदूक आने से बहुत खूनखराबा होगा। हमारे जवान मारे जाएंगें, हमारी माताएं-बहनों की इज्जत नहीं होगी। इसके बावजूद उनके पिता ने ऐसा किया।

सरकार बनाने की कोशिशों और नैशनल कॉनफ्रेंस, पीडीपी और कांग्रेस के साथ आने के बारे में फारूक ने कहा कि हम सरकार नहीं बनाना चाहते थे, बल्कि उससे बचाना चाहते थे, जो आज राज्यपाल कर रहे हैं। यह सरकार ज्यादा लंबी नहीं चलनी थी और एक दिन गिरनी ही थी और चुनाव होना ही था।

साभार- ‘पंजाब केसरी’

Top Stories