सट्टे का 50 फीसदी पैसा डी कंपनी को जाता है

सट्टे का 50 फीसदी पैसा  डी कंपनी को जाता है
नई दिल्ली, 28 मई: अब तक की जांच में यह वाजेह हो चुका है कि आईपीएल-6 फिक्सिंग में अरबों रुपये का सट्टा लगा। पुलिस भी मान रही है कि इसके पीछे अंडरवर्ल्ड के डॉन का हाथ है।

नई दिल्ली, 28 मई: अब तक की जांच में यह वाजेह हो चुका है कि आईपीएल-6 फिक्सिंग में अरबों रुपये का सट्टा लगा। पुलिस भी मान रही है कि इसके पीछे अंडरवर्ल्ड के डॉन का हाथ है।

सट्टे में मुनाफे का 50 फीसदी हिस्सा डी कंपनी के अनीस इब्राहिम को जाता है जबकि बाकी बची रकम हिंदुस्तान के बुकीज में ब‍टता है।

दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में आए बुकीज ने इस बात का खुलासा किया। डी कंपनी के इशारे पर ही खिलाड़ियों को रुपये दिए गए।

पुलिस ज़राए के मुताबिक, अश्विनी की इत्तेला के बाद सुनील भाटिया और यहया जैसे बड़े बुकीज पुलिस के हत्थे चढ़े।

अश्विनी ने पुलिस को बताया कि हैदराबाद का बुकी आमिर के इशारे पर मुल्क में सट्टे का कारोबार चला रहा है। आमिर के सुनील दुबई नामी बुकी से ताल्लुकात हैं। सुनील के ताल्लुकात सीधे डी कंपनी के अनीस इब्राहिम से हैं।

डी कंपनी के इशारे पर फिक्सिंग का पूरा खेल खेला जाता है। सुनील हवाला के जरिए आमिर तक पैसा पहुंचाता था, जहां से आमिर खिलाड़ियों तक पैसा पहुंचाता था।

ज़राए की मानें तो सुनील दुबई का 2007 में सट्टेबाजी में नाम आया था। लेकिन पुलिस उस तक नहीं पहुंच पाई थी। अश्विनी अग्रवाल, सुनील भाटिया और यहया गैरह सभी बुकीज आमिर के लिए ही काम रहे हैं।

मुल्क में बुकीज का बड़ा नेटवर्क आमिर ही चला रहा है। पुलिस को आमिर की ई-मेल आईडी मिली है। और सी की बुनियाद पर पुलिस जानकारियां जुटा रही है।

बशुक्रिया: अमर उजाला

Top Stories