Monday , December 11 2017

सतलोक आश्रम ख़ाली करवाने डिप्टी कमिशनर का हुक्म, कशीदगी बरक़रार

रोहतक (हरियाणा) 15 मई : मौज़ा कारो नत्था में पैदा शूदा कशीदगी(तनाव) को कम करने के लिए हुक्काम ने मुतनाजे(विवादित) सतलोक आश्रम को ख़ाली करवाने का फ़ैसला किया है।

रोहतक (हरियाणा) 15 मई : मौज़ा कारो नत्था में पैदा शूदा कशीदगी(तनाव) को कम करने के लिए हुक्काम ने मुतनाजे(विवादित) सतलोक आश्रम को ख़ाली करवाने का फ़ैसला किया है।

याद रहे कि इतवार को पुलिस और एहितजाजियों के बीच‌ ज़बरदस्त झड़पें हुई थीं जिसके बाद हालात कशीदा होगए थे। इसके बाद‌ डिप्टी कमिशनर विकास गुप्ता जिन्हें ताअज़ीरात-ए-हिंद की दफ़ा 144 के तहत ख़ुसूसी इख़्तयारात भी दिए गए हैं, ने कहा कि आश्रम को फ़ौरी तौर पर ख़ाली करवाया जाएगा।

सतलोक आश्रम जिसकी अगवाई राम पाल करते हैं,उसके मालिकाना हुक़ूक़ को लेकर हालात उस वक़्त एकदम बिगड़ गए थे जब पुलिस आर्या परतीनधी सभा के अरकान को आश्रम की जानिब आगे आने से रोक दिया था। झड़पों के दौरान तीन अफ़राद हलाक होगए थे जबकि 100 अफ़राद तक्रीबन‌ 50 पुलिस अहलकार ज़ख़मी हुए थे।

यहां इस बात का तज़किरा एक बार फिर ज़रूरी है कि ये कशीदगी कोई नई नहीं है बल्कि आर्या समाजियों का ये ख्याल‌ है कि आश्रम पर राम पाल की कबजा गै़रक़ानूनी है। अब जबकि कारो नत्था मौज़ा में कशीदगी बरक़रार है वहीं वज़ीर-ए-आला भूपेंद्र सिंह हूड्डा ने एक बार फिर अव्वाम से पुरअमन रहने की अपील की।

दूसरी तरफ़ गुप्ता ने एक बार फिर अपना मौक़िफ़ वाज़ह करते हुए कहा कि बिगड़े हुए हालात को क़ाबू में करने के लिए आश्रम को ख़ाली करवाने का हुक्म दिया गया है। उन्होंने आर्या समाज के अरकान से भी अपील की कि वो सतलोक आश्रम के क़रीब अपने एहतिजाज से अलाहदा होकर अपने अपने घरों को चले जाएं।

इसे पहले सुबह आर्या समाज के अरकान ने झड़प में हलाक हो जाने वाली 40 साला ख़ातून की नाश को झड़प के मुक़ाम से हटा लिया लेकिन उनका माँग‌ ये था कि जब तक आश्रम को मुकम्मल तौर पर ख़ाली नहीं करवाया जाएगा महलूक ख़ातून की आख़िरी रसूमात अंजाम नहीं दी जाएंगी।

पुलिस ने हालाँकि आर्या समाज के जिन अरकान को हिरासत में लिया था उन्हें रेहा कर दिया है। उनके माँगौ में आश्रम के इनख़ला-ए‍के अलावा महलूकीन को शहीदों का दर्जा देने और उनके अरकान ख़ानदान को मुआवज़ा अदा करना शामिल हैं।

TOPPOPULARRECENT