सत्ता के नशे में चूर बीजेपी नेता के बेटे ने कहा “जब हाथी चलता है तो कुत्ते भौंकते हैं”

सत्ता के नशे में चूर बीजेपी नेता के बेटे ने कहा “जब हाथी चलता है तो कुत्ते भौंकते हैं”
Click for full image

भोपाल: मध्यप्रदेश से बीजेपी नेता संजय पाठक कटनी के 500 करोड़ रुपए के हवाला कारोबार में नाम सामने आने के बाद मुश्किल में घिरे हुए थे। नोटबंदी के बाद और एसपी के तबादले के बाद चर्चा में आये संजय पाठक के बेटे यश पाठक भी कम नहीं हैं। यश ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक स्टेटस डाल कर कई तरह के सवाल खड़े कर दिए हैं। यश ने यह स्टेटस लिखा है,” जब हाथी चलता है तो कुत्ते भौंकते हैं”

यश के इस पोस्ट को लोग अलग-अलग नजरिये से देख रहे हैं। हालांकि यश के इस पोस्ट पर ज्यादातर उनके शुभचिंतकों ने ही टिप्पणियां दी हैं लेकिन विपक्षी लोगों का कहना है कि यह पोस्ट कटनी में जारी घटनाक्रम से जुड़ा है जोकि मनमानी को दर्शा रहा है। आपको बता दें की यश पाठक लंदन की कार्डिफ यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहे हैं। फेसबुक के पड़ी उनकी कुछ फोटोज से उनका शाही अंदाज़ साफ़ जाहिर हो रहा है। हो भी क्यूँ न आखिर पिता जी ने अपने पास बेशुमार दौलत जो इक्कठी कर रखी है।

उन्ही के जानकारों का कहना है कि यश कुछ उग्र स्वभाव के हैं और उनकी हरकतों के कारण पिता संजय पाठक ने उन्हें बेंगुलुरु से बुलाकर अपने साइना इंटरनेशनल स्कूल के हॉस्टल में रखा था डायरेक्टर बोर्ड में भी हैं। लेकिन जब वहां भी उनका हॉस्टल में रह रहे छात्रों से विवाद हो गया तो पिता संजय पाठक ने उन्हें पढाई के लिए लंदन भेज दिया।

Top Stories