Thursday , December 14 2017

सदर-ए-इरान का न्यूक्लीयर मुज़ाकरात में शफ़्फ़ाफ़ियत का पेशकश

सदर इरान हसन रुहानी ने कहा कि उन के मुलक को 6 आलमी ताक़तों के साथ न्यूक्लीयर मुज़ाकरात में शफ़्फ़ाफ़ियत के इलावा कोई और पेशकश नहीं करनी है। इरानी सरकारी टी वी ने हसन रुहानी की तक़रीर आज रास्त नशर की। सदर इरान ने कहा कि इस्लामी जमहूरीया न

सदर इरान हसन रुहानी ने कहा कि उन के मुलक को 6 आलमी ताक़तों के साथ न्यूक्लीयर मुज़ाकरात में शफ़्फ़ाफ़ियत के इलावा कोई और पेशकश नहीं करनी है। इरानी सरकारी टी वी ने हसन रुहानी की तक़रीर आज रास्त नशर की। सदर इरान ने कहा कि इस्लामी जमहूरीया न्यूक्लीयर हथियार नहीं चाहता।

उन्हों ने कहा कि हमें सिवाए शफ़्फ़ाफ़ियत के बात चीत में कोई और पेशकश नहीं करना है। उन का ये तबसरा इरान और आलमी ताक़तों के दरमियान बात चीत के ताज़ा मरहला में मंज़रे आम पर आया। मुज़ाकरात का आग़ाज़ मंगल को होगा।

सख़्त गैर अफ़राद का दावा है कि हसन रुहानी इंतिज़ामीया ने कई रियायतें मग़रिबी ममालिक को दे दी हैं जब कि इस के मुआवज़ा में बहुत कम हासिल किया है। बात चीत के तीन मरहले वेयाना में अक़वाम-ए-मुत्तहिदा की सलामती कौंसल के पाँच मुस्तक़िल अरकान और जर्मनी के साथ पहले ही मुनाक़िद किए जा चुके हैं।

दोनों फ़रीक़ैन एहतियात के साथ मुज़ाकरात की कामयाबी के बारे में पुर ऊमीद हैं। सब से बड़ी रुकावट वादई अरक का रीएक्टर है जो एसा मालूम होता है कि हल करलिया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT