Sunday , January 21 2018

सदर जमहूरिया ने एलाभट को इंदिरा गांधी इनाम दिया

नई दिल्ली, 19 फ़रवरी: नामवर समाजी कारकुन ईला रमेश भट को आज इंदिरा गांधी इनाम बराए अमन, तर्क इसलाह -ओ-तरक़्क़ी सदर जमहूरिया हिंद परनब मुकर्जी ने अता किया। ईला भट ख़ुद रोज़गार ख़वातीन की एसोसीएष्ण की बानी हैं। उन्हें इंदिरा गांधी इनाम ब

नई दिल्ली, 19 फ़रवरी: नामवर समाजी कारकुन ईला रमेश भट को आज इंदिरा गांधी इनाम बराए अमन, तर्क इसलाह -ओ-तरक़्क़ी सदर जमहूरिया हिंद परनब मुकर्जी ने अता किया। ईला भट ख़ुद रोज़गार ख़वातीन की एसोसीएष्ण की बानी हैं। उन्हें इंदिरा गांधी इनाम बराए 2011 राष़्ट्रा पती भवन में मुनाक़िदा एक तक़रीब में अता किया गया जिस में वज़ीरे आज़म मनमोहन सिंह और सदर कांग्रेस सोनिया गांधी ने भी शिरकत की।

ये इनाम ईला भट को उन के ख़वातीन की हिन्दुस्तान में जामा बा इख़तियारी के शोबे में कारनामा हयात की बिना पर अता किया गया। इस के इलावा उन्होंने बुनियादी सतह की सनअत कारी के लिए भी काम किया है। इनाम एक सिपास नामा और 25 लाख रुपये नक़द इनाम पर मुश्तमिल है। अवार्ड क़ुबूल करते हुए ईला भट ने कहा कि इस इनाम ने उन्हें अमन की तशकील के बारे में नज़रियात का अज़ सरे नौ तजज़िया करने का मौक़ा अता किया है।

उन्होंने कहा कि यक़ीनन जंग की ग़ैरमौजूदगी अमन नहीं है, अमन बेशक जंग को दूर रखता है, लेकिन ये इस से भी कहीं ज़्यादा मानी रखता है। अमन तर्क इसलाह का हामी है और जंग को बेकार क़रार देता है। अमन एक ऐसी हालत है जिस में एक मुंसिफ़ाना और ज़रख़ेज़ मुआशरा क़ायम होता है।

अमन मुआशरे में तवाज़ुन की बहाली का नाम है। इसी सूरत में मुस्तक़िल अमन का क़ियाम मुम्किन है। उन्होंने मग़रिबी मआशी नमूनों के ख़िलाफ़ ख़बरदार किया और कहा कि 6 बुनियादी उसूल पुरअमन मुआशरे की बुनियाद हैं।

TOPPOPULARRECENT