सदर नशीन प्रेस काउंसिल आफ़ इंडिया के ख़िलाफ़ दरख़ास्त मुस्तरद

सदर नशीन प्रेस काउंसिल आफ़ इंडिया के ख़िलाफ़ दरख़ास्त मुस्तरद
नई दिल्ली सुप्रीम कोर्ट ने मफ़ाद-ए-आम्मा की एक दरख़ास्त मुस्तरद करदी है जिस में साबिक़ सुप्रीम कोर्ट जज और सदर नशीन प्रेस काउंसिल आफ़ इंडिया जस्टिस सी के प्रसाद के ख़िलाफ़ एफ आई आर दर्ज करने की इस्तिदा की गई थी।

नई दिल्ली

सुप्रीम कोर्ट ने मफ़ाद-ए-आम्मा की एक दरख़ास्त मुस्तरद करदी है जिस में साबिक़ सुप्रीम कोर्ट जज और सदर नशीन प्रेस काउंसिल आफ़ इंडिया जस्टिस सी के प्रसाद के ख़िलाफ़ एफ आई आर दर्ज करने की इस्तिदा की गई थी।

दरख़ास्त में कहा गया था कि जस्टिस प्रसाद ने बहैसियत जज अपने वक़्त में एक सियोल अपील में नामुनासिब अहकाम जारी किए थे । सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस तरह की दरख़ास्तों की समाअत की जाये तो इस से हालात ख़तरनाक हूजाएंगे। जस्टिस दीपक मिश्रा और जस्टिस प्राफूल सी पंत पर मुश्तमिल बेंच ने ये दरख़ास्त मुस्तरद करदी जो मशहूर वकील प्रशांत भूषण ने दायर की थी।

Top Stories