Friday , April 20 2018

सदारती इंतेख़ाबात , सोनीया गांधी की अपोज़ीशन से अनक़रीब ( बहुत जलदी) मुशावरत (विचार विमर्श)

सदारती उम्मीदवार के बारे में 10 जून से क़ब्ल ( पहले) किसी फ़ैसले का इन्कान ( उम्मीद) नहीं है । क्योंकि मुशावरत ( विचार विमर्श) का अमल 22 मई को पार्लीमेंट के बजट सेशन ख़त्म ( समाप्त) होने के बाद ही शिद्दत (सख्ती) इख्तेयार करेगा । कांग्रेस ज़रा

सदारती उम्मीदवार के बारे में 10 जून से क़ब्ल ( पहले) किसी फ़ैसले का इन्कान ( उम्मीद) नहीं है । क्योंकि मुशावरत ( विचार विमर्श) का अमल 22 मई को पार्लीमेंट के बजट सेशन ख़त्म ( समाप्त) होने के बाद ही शिद्दत (सख्ती) इख्तेयार करेगा । कांग्रेस ज़राए ने बताया कि पार्टी सदर-ओ-सदर नशीन यू पी ए सोनीया गांधी ने सहि रुख़ी मुशावरती हिक्मत-ए-अमली इख्तेयार की है ।

यू पी ए हलीफ़ जमातों और ताईद करने वाली जमातों से पहले दौर के मुज़ाकरात के बाद तवक़्क़ो है कि वो अपोज़ीशन पार्टीयों से रब्त क़ायम करेंगी ताकि सदर और नायब सदर उम्मीदवार के बारे में मौक़िफ़ को समझा जा सके । समाजवादी पार्टी सरबराह ( संस्थापक) मुलायम सिंह यादव और बी एस पी सरबराह मायावती से बजट सेशन ख़तम होने के बाद कभी भी मुलाक़ात हो सकती है ।

इस वक़्त परनब मुकर्जी सदारती उम्मीदवार की हैसियत से पेश किए जा रहे हैं लेकिन कांग्रेस ने ये इशारा दिया है कि उसे ऐसी कोई उजलत नहीं है ।

TOPPOPULARRECENT