सपने दिखा लोगों को ठग रहे PM मोदी : नीतीश कुमार

सपने दिखा लोगों को ठग रहे PM मोदी : नीतीश कुमार
Click for full image

इलाहाबाद : बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा कि वे सपने दिखा कर ठगने में लगे हैं. न तो युवकों को रोजगार मिला और न ही किसानों को उनकी उपज का वाजिब मूल्य मिला.

वाराणसी में चुनाव के दौरान उन्होंने कहा था कि मां गंगा ने बुलाया है, लेकिन अब तो गंगा ही उन्हें खोज रही हैं. नीतीश रविवार को फूलपुर के भुलई में मंडलीय राजनैतिक कार्यकर्ता सम्मेलन में बोल रहे थे. भारी बारिश के बीच हुई सभा को जदयू के कई नेताओं ने संबोधित किया.

नीतीश कुमार ने बिहार में शराबबंदी की चर्चा करते हुए कहा कि इसके बेहतर परिणाम दिखने लगे हैं. अपराध में कमी आयी है. उन्होंने कहा कि उनका मकसद पूरे देश में शराबबंदी लागू कराने की है.

उन्होंने कहा कि जो लोग कहते हैं कि शराबबंदी से सरकारी राजस्व का घाटा होगा, वे गलत सोच रखते हैं. इससे कहीं फायदा ज्यादा है. उन्होंने कहा कि बिहार में शराबबंदी के बाद झारखंड व यूपी की सरकार से मदद करने और सीमावर्ती जिलों में शराब पर पाबंदी लगाने का अनुरोध किया गया था, लेकिन इसका उल्टा हुआ. सीमावर्ती जिलों में ऊंची कीमतों पर शराब की दुकानों की बंदोबस्ती की गयी. नीतीश ने सभा में मौजूद लोगों से शराब न पीने का संकल्प भी दिलाया.

सम्मेलन में राज्यसभा सांसद शरद यादव ने मुलायम और मायावती पर तंज करते हुए कहा कि लोहिया और आंबेडकर का नाम लेने वाले ये लोग परोक्ष रूप से भाजपा के सहयोगी हैं. उन्होंने कहा कि देश में सबसे बड़ी चुनौती सांप्रदायिकता है. भाजपा को यूपी से भी खदेड़ना होगा. कार्यक्रम में सांसद केसी त्यागी, आरसीपी सिंह, अली अनवर, जदयू के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश निरंजन आदि मौजूद थे. अध्यक्षता इंद्र बहादुर सिंह और संचालन शमीम तूफानी ने किया.

नीतीश ने यूपी की अखिलेश सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि लोग शराब से मर रहे हैं, लेकिन प्रदेश सरकार को इसकी चिंता नहीं है. उन्होंने एलान किया कि यदि जदयू की सरकार बनी, तो शराब पर पूर्ण प्रतिबंध लगा देंगे. उन्होंने कहा, बगल में (बिहार में) बदलाव आया है, मौका मिला तो यहां भी करेंगे. हम राजनीति सेवा भाव से करते हैं. उन्होंने प्रदेश सरकार को नसीहत के लहजे में कहा, अखिलेश जी, शराब बंद कराइए. इससे नुकसान नहीं, फायदा होगा.

Top Stories