सपा के रजत जयंती समारोह में “एकजुट” हुआ जनता परिवार

सपा के रजत जयंती समारोह में “एकजुट” हुआ जनता परिवार

लखनऊ: समाजवादी पार्टी का अंदरूनी झगडा अब लगता है ख़त्म हो चुका है. यही वजह है कि आज हो रहे पार्टी के रजत जयंती के कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी में एकजुटता नज़र आ रही है. सपा के इलावा पुराने जनता परिवार के दिग्गज नेता भी एकजुट हुए हैं. इससे ये अटकले लगनी शुरू हो गयी हैं कि कहीं फिर से तो जनता परिवार नहीं बनने जा रहा है.

समाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह के बहाने आज जनता परिवार के पुराने दिग्गज नेताओं ने मंच साझा किया।

समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौडा, राजद प्रमुख लालू प्रसाद, रालोद प्रमुख अजित सिंह, जदयू नेता शरद यादव, इनेलोद नेता अभय चौटाला और प्रख्यात वकील राम जेठमलानी शामिल हुए।

सपा कार्यकर्ताओं की जोरदार नारेबाजी के बीच सभी नेता एक एक कर मंच पर पहुंचे। सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव सबसे अंत में आये। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी सांसद पत्नी डिंपल यादव के साथ मंच पर मौजूद थे। सपा के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने सबका स्वागत किया।

समारोह का आयोजन राजधानी के जनेश्वर मिश्र पार्क में किया गया। समारोह की तैयारियों की कमान स्वयं शिवपाल ने संभाल रखी थी।

शिवपाल ने अपने स्वागत भाषण में देवगौडा की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि देवगौडा ने सभी समाजवादियों को जोडने का काम किया है।

सपा के इस ‘मेगा शो’ को ‘महागठबंधन’ की संभावनाओं से भी जोडकर देखा जा रहा है। देवगौडा से जब महागठबंधन की संभावना के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश, गुजरात और पंजाब के चुनावों के बाद ऐसे हालात शायद पैदा हों। फिलहाल वह यहां सपा के आमंत्रण पर रजत जयंती समारोह में हिस्सा लेने आये हैं।

जदयू नेता शरद यादव ने कहा कि गठबंधन को लेकर अभी कोई बातचीत नहीं हुई है। मुलायम सिंह यादव बेहतर बता सकते हैं क्योंकि यहां सपा बडी पार्टी है।

Top Stories