Sunday , September 23 2018

सपा नेता आजम खान पर अब चार मामलों में चलेंगे मुकदमे

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और जौहर यूनिवर्सिटी के संस्थापक आज़म खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही है. राजस्व परिषद उत्तर प्रदेश ने मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी के लिए चकरोड और ग्राम समाज की जमीन लेने के मामले में आजम खान के खिलाफ चार मुकदमे चलाने को मंजूरी दे दी है. मामले में अगली सुनवाई 17 अप्रैल को होगी.

जौहर यूनिवर्सिटी के संस्थापक आज़म खान के खिलाफ़ चार मुकदमे चलाने की मंजूरी दे दी गई है. लघु उद्योग भारती के जिलाध्यक्ष आकाश सक्सेना की शिकायत करने के बाद राजस्व परिषद ने आज़म खान पर मुकदमे चलाने की मंजूरी दी है.

शिकायतकर्ता आकाश सक्सेना ने बताया कि सपा सरकार में आज़म खान के द्वारा सारे नियमों को ताख पर रखकर यूनिवर्सिटी के अंदर आने वाली चकरोड को पहले एक्सचेंज किया, फिर जौहर यूनिवर्सिटी में शामिल किया. उसी को लेकर मैंने जिलाधिकारी से शिकायत की थी. डीएम ने मेरी शिकायत को सही पाया गया. जिलाधिकारी के माध्यम से राजस्व परिषद में मुकदमा दायर किया गया. अब राजस्व परिषद द्वारा मुकदमा चलाने की अनुमति दी है. अगली तारीख 17 अप्रैल पड़ी है. जल्द ही गरीबों को दी गई चकरोड उनको वापस की जाएगी.

सपा सरकार में आजम खान के रसूख के चलते अफसरों ने सरकारी जमीनों को यूनिवर्सिटी में शामिल कर दिया था. जौहर यूनिवर्सिटी के लिए उत्तर प्रदेश ज़मीदारी विनाश एवम भूमि व्यवस्था अधिनियम के तहत जमीनों का एक्सचेंज हुआ था. तत्कालीन एसडीएम ने ये ऑर्डर किया था कि ऐसी जमीने जो जौहर यूनिवर्सिटी के अंतर्गत जो ग्राम समाज, नदी, रेत और चक रोड की थीं, उनका एक्सचेंज करके उसे यूनिवर्सिटी को दिया गया था.

TOPPOPULARRECENT