Saturday , December 16 2017

सपा में नहीं होगा कौमी एकता दल का विलय, गठबंधन किसी भी पार्टी से संभव: मुख़्तार अंसारी

लखनऊ। सपा में अब कौमी एकता दल का विलय नहीं होगा। यह बात दल के मुखिया मुख़्तार अंसारी ने यहाँ मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद कही। उन्होंने कहा कि विलय की जगह चुनाव में सपा के साथ गठबंधन हो सकता है। इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि कौमी एकता दल का सपा क्या किसी भी पार्टी से चुनावी गठबंधन संभव है।
सपा में कौमी एकता दल के विलय के सवाल पर अखिलेश यादव और उनके चाचा काबीना मंत्री शिवपाल यादव के बीच तलवारें खींची हुई थीं। बताते हैं, शिवपाल की पहल पर ही दल का सपा में विलय होने जा रहा था। मगर मुख़्तार के आपराधिक चरित्र का हवाला देकर अखिलेश यादव इसके विरोध में खड़े हो गए। बाद में यह मसला इतना विवादस्पद हो गया कि शिवपाल ने मैनपुरी के एक कार्यक्रम में इस्तीफे की खुली धमकी दे डाली। सपा मुखिया भी कह चुके हैं कि उनके भाई ने तीन बार उनके सामने त्यागपत्र देने की पेशकश की थी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

15 अगस्त को मुलायम को इसमें हस्तक्षेप करना पड़ा। उसके दो दिनों बाद ही चाचा भतीजे की बंद कमरे में लंबी बातचीत हुई। फिर शिवपाल ने कौमी एकता दल का सपा में विलय नहीं होने के संकेत दिए थे। मंगलवार को मुख़्तार अंसारी की सीएम और उनके भाई की शिवपाल से उनके चैम्बर में बातचीत हुई। इसके बाद उन्होंने पत्रकारों के सामने सपा में कौमी एकता दल का विलय नहीं होने का ऐलान किया। मुख़्तार ने कहा कि गठबंधन किस से होगा, किस से नहीं इसका फैसला उनके भाई करेंगे।

लखनऊ से एम ए हाशमी

TOPPOPULARRECENT