सभी को सरकारी नौकरी संभव नहीं है, लेकिन उनकी प्रतिभा का विकास कर उन्हें रोजगार देना संभव है: गृहमंत्री

सभी को सरकारी नौकरी संभव नहीं है, लेकिन उनकी प्रतिभा का विकास कर उन्हें रोजगार देना संभव है: गृहमंत्री
Click for full image

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि कौशल भारत, सशक्त भारत के तहत देश के युवाओं को बड़ी संख्या में रोजगार मुहैया कराए जा रहे हैं। लखनऊ में रोजगार मेले का उद्घाटन करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि देश भर के 450 केन्द्रों पर इस प्रकार के रोजगार मेले लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि आज लखनऊ में रोजगार मेले के तहत 8 हजार से भी ज्यादा युवाओं को रोजगार दिया जाएगा जो एक बड़ी उपलब्धि है।

प्रधानमंत्री के विजन की प्रशंसा करते हुए श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि युवा शक्ति का इस्तेमाल देश के विकास में करने के लिए उन्होंने कौशल विकास, स्टार्ट अप और स्टैंड अप इंडिया जैसे कार्यक्रमों की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि युवाओं को कुशल बनाकर उन्हें रोजगार देने की इस प्रक्रिया में निजी क्षेत्र से महत्वपूर्ण सहयोग प्राप्त हो रहा है।

श्री सिंह ने कहा कि सभी को सरकारी नौकरी संभव नहीं है, लेकिन उनकी प्रतिभा का विकास कर उन्हें रोजगार देना संभव है। गृह मंत्री ने कहा कि देश में मानव संसाधन की कमी नहीं है। देश की कुल आबादी के 62 फीसद लोगों की आयु 25 वर्ष या उससे कम है।

गृह मंत्री ने कहा कि भारत आज दुनिया की सबसे तेजी से विकास करती अर्थव्यवस्था वाला देश है। इसमें सभी का योगदान है। युवाओं का योगदान खासतौर पर है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने वर्ष 2022 तक सभी को मकान देने की बात कही है। रोजी-रोटी और मकान लोगों की बुनियादी जरूरतें हैं, जिन्‍हें सरकार पूरा करेगी। उत्तर प्रदेश की चर्चा करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि यहां रोजगार की अपार संभावनाएं हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा शुरू ‘एक जनपद एक उत्पाद’ योजना के बेहतर नतीजे सामने आए हैं। श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि जब कौशल विकास के जरिये लोगों को रोजगार मिलेगा तभी उनका पलायन रुकेगा। उन्होंने कहा कि सरकार मुद्रा योजना के तहत 10 लाख रुपये तक का कर्ज बगैर किसी जमानत के देती है। देश में साढ़े छह करोड़ लोगों को इस योजना का पहली बार फायदा हुआ है।

गृह मंत्री ने इस अवसर पर कौशल विकास के तहत प्रशिक्षित युवाओं को सिलाई मशीन जैसे उपकरण दिए। उन्होंने रोजगार मेले में सफल घोषित युवाओं को रोजगार पत्र भी दिए।

Top Stories