Monday , June 18 2018

समझौता ब्लास्ट केस : गवाहों के मुकरने का सिलसिला ज़ारी, अगली सुनवाई 29 अगस्त को

पंचकूला : समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट केस में गवाहों के मुकरने के कारण असीमानंद अन्य आरोपियों को राहत मिलती दिख रही है. सुनवाई में NIA कोर्ट में इंदौर के रहने वाले राजेश और राकेश 2 गवाहों की गवाहियां हुई दोनों अपने बयान से पलट गये । मामले की अगली सुनवाई अब 29 अगस्त ​और 2 सितंबर को होगी। ​अभी इस मामले में कई महत्वपूर्ण गवाहियां होनी बाकी हैं। ​आपको बता दें कि एन.आई.ए. कोर्ट द्वारा आई.पी.सी. की धाराओं 120, 302, 307, 124 ए व 440 व रेलवे एक्ट 150, 151 के साथ डेमेज टू पब्लिक एक्ट के तहत 3, 4 के साथ साथ धारा 16 व 17 सहित 18 धाराओं के तहत आरोपियों के खिलाफ आरोप पहले ही 24 जनवरी को तय किए जा चुके हैं। जिसके बाद अब मामले का ट्रायल पंचकूला की विशेष एन.आई.ए. कोर्ट में चल रहा है। इस मामले में अभी तक करीब 171 गवाहों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं ​​जबकि और कई महत्वपूर्ण गवाहियां होनी अभी बाकी हैं।

गौरतबल है कि 18 फरवरी 2007 समझौता एक्सप्रैस विस्फोट एक आतंकवादी घटना थी, जिसमें 18 फरवरी, 2007 को भारत और पाकिस्तान के बीच चलने वाली ट्रेन समझौता एक्सप्रेस में विस्फोट हुए थे। यह ट्रेन दिल्ली से अटारी, पाकिस्तान जा रही थी। विस्फोट हरियाणा के पानीपत जिले में चांदनी बाग थाने के अंतर्गत सिवाह गांव के दीवाना स्टेशन के नजदीक हुए। विस्फोट से लगी आग में कम से कम 68 व्यक्तियों की मौत हो गई थी तथा 13 अन्य घायल हो गए थे। मारे गए ज्यादातर लोग पाकिस्तानी नागरिक थे। ब्लास्ट के सभी आरोपियों के खिलाफ ये मामला पंचकूला की स्पेशल एन.आई.ए. कोर्ट में चल रहा है।

TOPPOPULARRECENT