Sunday , December 17 2017

समलैंगिकता अपराध नहीं: RSS

rss_759नई दिल्ली। आरएसएस के महासचिव दत्तात्रेय होसबोले ने कहा कि समलैंगिकता को अपराध की तरह नहीं देखना चाहिए और इस पर सजा नहीं होनी चाहिए।
होसबोले ने कहा कि ‘इंडिया टुडे कांक्लेव’ में कहा कि समलैंगिकता लोगों का निजी मामला है इसलिए आरएसएस को इस पर चर्चा करने की जरूरत नहीं है।

उन्होंने इस बार पर जोर दिया है कि सेक्स का चुनाव तब तक अपराध नहीं है जबतक वो दूसरों को प्रभावित न करे। आरएसएस का ये बयान उस बहस को और बल दे सकता है जिसमें समलैंगिकता को अपराध न मानने की दलील दी जाती है।

आरएसएस का यह बयान उस बहस को और बल दे सकता है जिसमें समलैंगिकता को अपराध न मानने की दलील दी जाती है।

मामले पर बवाल मचने पर होसबोले ने सफाई देते हुए कहा कि समलैंगिक संबंध एक सामाजिक बुराई है और समलैंगिक शादी नहीं होनी चाहिए।

उल्लेखनीय है कि पिछले महीने जब कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने होमोसेक्सुअलिटी को गैरआपराधिक बनाने के लिए लोकसभा में प्रस्ताव पेश किया था। भाजपा सांसदों के विरोध के चलते ये प्रस्ताव पास नहीं हो पाया था

WD

TOPPOPULARRECENT