Friday , November 24 2017
Home / India / सयासी अछूतपन ख़त्म करने अडवानी की अपील बकवास

सयासी अछूतपन ख़त्म करने अडवानी की अपील बकवास

बी जे पी के नामवर क़ाइद एल के अडवानी की तरफ‌ से सयासी अछूतपन ख़त्म करने की अपील पर सी पी आई एम की शाख़ केराला के सैक्रेटरी पी विजयन ने आज कहा कि पार्टी यक़ीनी तौर पर इस अपील की मुख़ालिफ़त करेगी क्योंकि इससे मुल्क की सैकूलर सियासत को संग

बी जे पी के नामवर क़ाइद एल के अडवानी की तरफ‌ से सयासी अछूतपन ख़त्म करने की अपील पर सी पी आई एम की शाख़ केराला के सैक्रेटरी पी विजयन ने आज कहा कि पार्टी यक़ीनी तौर पर इस अपील की मुख़ालिफ़त करेगी क्योंकि इससे मुल्क की सैकूलर सियासत को संगीन ख़तरा लाहक़ होता है वो एक प्रैस कान्फ़्रैंस से ख़िताब कररहे थे ।उन्होंने कहा कि हमारी मुख़ालिफ़त मुत्तहदा है हमने हमेशा बी जे पी के ख़िलाफ़ मुस्तहकम मौक़िफ़ इख़तियार किया है और हम उस को कोई समझौता किए बगै़र जारी रखेंगे ।

सी पी आई एम के क़ाइद अडवानी तक़रीर पर रद्द-ए-अमल ज़ाहिर कररहे थे जो उन्होंने कल तिरूअनंतपुरम‌ में की थी और कहा था कि कमीयूनिसटों के बर ख़िलाफ़ उनकी पार्टी सयासी अछूतपन पर कोई यक़ीन नहीं रखती । दिलचस्प बात ये है कि आर एस एस का सयासी शोबा हाल ही में मलयालम में एक मज़मून शाय कर चुका है जिसमें मांग‌ किया गया है कि ऐसे इलाक़े तलाश किए जाएं जहां भगवा परिवार और सी पी आई एम के बीच‌ तआवुन मुम्किन है जबकि सी पी आई एम की तरफ‌ से इस पेशकश को फ़ौरी खारिज‌ कर दिया गया ।

अडवानी के नुक़्ता-ए-नज़र को यकसर खारीज‌ करते हुए विजयन ने कहा कि हम ना सिर्फ़ सैकूलर ज़म के दिफ़ा केलिए बल्कि फ़िर्खापरस्त ताक़तों के ख़ातमे केलिए अनथक और पुर ज़ोर जद्द-ओ-जहद करते आरहे हैं । उन्होंने अडवानी पर इल्ज़ाम आइद किया कि वो मुल्क में अपनी रथ यात्रा के ज़रीये माज़ी में फ़िर्कावारी कशीदगी पैदा करचुके हैं ।

बाद में मुल्क के वज़ीर-ए-आज़म की हैसियत से अडवानी ने नरेंद्र मोदी को गुजरात फ़सादाद के बाद चीफ़ मिनिस्टर के ओहदे से बरख़ास्त करने की मुख़ालिफ़त की थी इसके बावजूद के उस वक़्त के वज़ीर-ए-आज़म अटल बिहारी वाजपाई चाहते थे कि नरेंद्र मोदी मुस्ताफ़ी होजाए या दूसरी सूरत में बरतरफ़ कर दिए जाएं ।

वाजपाई की इस बात में गहरी दिलचस्पी के बावजूद बहैसीयत मर्कज़ी वज़ीर-ए-दाख़िला एल के अडवानी ने मोदी को चीफ़ मिनिस्टर के ओहदे से बरतरफ़ नहीं किया था इस के बावजूद अडवानी चाहते हैं कि उनकी पार्टी का सयासी अछूतपन ख़त्म होजाए । ऐसा मालूम होता है कि अडवानी को कमीयूनिसट तहरीक के ख़िलाफ़ तन्क़ीद करने का मामूल के मुताबिक़ दौरा पड़ा है जिस पर उन्हें कोई पछतावा भी नहीं है ।

विजयन ने कहा कि बी जे पी का मुस्तक़बिल तारीक है ।उन्होंने अडवानी पर इल्ज़ाम आइद किया कि वो रथ यात्रा के दौरान मुल्क गीर सतह पर फ़िर्क़ावाराना कशीदगी फैला चुके हैं । हालाँकि उनकी दिलचस्पी के बावजूद वो अपनी पार्टी की सयासी तन्हाई ख़त्म नहीं करचुके थे लेकिन इस पर उन्हें किसी किस्म का पछतावा भी नहीं है । अब कमीयूनिसट तहरीक पर उनकी तन्क़ीद से ज़ाहिर होता है कि उनकी ज़हनीयत में कोई तबदीली नहीं आई है।

TOPPOPULARRECENT