Friday , December 15 2017

सयासी क़ाइदीन और पुलिस वाले सब से ज़्यादा रिश्वतखोर: सर्वे

नई दिल्ली, २४ दिसम्बर (एजैंसीज़) क़ानून के रखवाले और क़ानून बनाने वाले ही अब सब से ज़्यादा बद उनवान बन चुके हैं। एक सर्वे में 74 फ़ीसद हिंदूस्तानियों का कहना है कि मुल्क में गुज़श्ता तीन बरसों में कुरप्शन में ज़बरदस्त इज़ाफ़ा हुआ हैं।

नई दिल्ली, २४ दिसम्बर (एजैंसीज़) क़ानून के रखवाले और क़ानून बनाने वाले ही अब सब से ज़्यादा बद उनवान बन चुके हैं। एक सर्वे में 74 फ़ीसद हिंदूस्तानियों का कहना है कि मुल्क में गुज़श्ता तीन बरसों में कुरप्शन में ज़बरदस्त इज़ाफ़ा हुआ हैं।

इन 74 फ़ीसद हिंदूस्तानियों की राय है कि सयासी रहनुमा और पुलिस वाले सब से ज़्यादा रिश्वतखोर हैं। टरानसपरनसी इंटरनैशनल के ज़रीया किराए गए सर्वे में इस हक़ीक़त का इन्किशाफ़ हुआ कि 64 फ़ीसद हिंदुस्तानियों ने किसी ना किसी वजह से पुलिस को रिश्वत दी, जबकि 55 फ़ीसद लोगों का कहना है कि हुकूमत के करप्शन के ख़िलाफ़ किए गए इक़दामात नाकाम साबित हुए हैं।

ज़्यादातर हिंदूस्तानियों का कहना है कि मुल्क में सयासी क़ाइदीन और पुलिस सब से ज़्यादा कुरप्शन में मुलव्वस हैं, जिन्हें काम आगे बढ़ानी, ओहदेदारान के साथ टकराओ से महफ़ूज़ रहने के लिए और बुनियादी सहूलयात के हुसूल के लिए रिश्वत देनी पड़ती हैं।

सर्वे में 48 फ़ीसद से ज़ाइद लोगों ने सयासी जमातों को सब से ज़्यादा बद उनवान और कुरप्शन में मुलव्वस तसव्वुर किया। जबकि 34.2 फ़ीसद लोगों ने कहा कि पार्लीमैंट और असैंबली सब से ज़्यादा बद उनवान इदारे हैं। वहीं 40.4 फ़ीसद लोगों ने पुलिस को सब से ज़्यादा करप्ट् बताया।

ये सर्वे 2010-ए-और 2011-ए-के दरमयान हिंदूस्तान, बंगला देश, मालदीप, नेपाल, पाकिस्तान और सिरी लंका में 7,500 लोगों के दरमयान किराया गया, जिस में लोगों से पुलिस, अदलिया, इनकम टैक्स डिपार्टमैंट, अवामी ख़िदमात फ़राहम करने वाले इकाइयों और एजूकेशन समेत 9 अवामी सिरोसिस पर इज़हार राय करने को कहा गया था। हिंदूस्तान के मुताल्लिक़ नताइज जारी करते हुए सर्वे में ये नहीं बताया गया कि हिंदूस्तान में कितने लोगों के दरमयान ये सर्वे किराया गया।

सर्वे में 63 फ़ीसद लोगों ने कहा कि उन्हों ने अराज़ी ख़िदमात से वाबस्ता ओहदेदारान को रिश्वत दी जबकि 62 फ़ीसद लोगों ने कहा कि उन्हों ने रजिस्ट्री और परमिट सरविस के लिए रिश्वत दी। हिंदूस्तान के मुताल्लिक़ कहा गया है कि यहां मुतवस्सित आमदनी वाले तबक़ात के मुक़ाबले में ऊंची आमदनी वाले तबक़ात ज़्यादा रिश्वत देते हैं।

लेकिन इस सर्वे से ये बात बिलकुल वाज़िह तौर पर सामने आई है कि हिंदूस्तान में सयासी क़ाइदीन और पुलिस वाले रिश्वत सतानी में सब से आगे हैं।

TOPPOPULARRECENT