Thursday , December 14 2017

सरकारी ओहदेदारों के तबादलों पर रोक‌

* उप चुनाव‌ के कारण‌ चीफ़ इलेक्टोरल ऑफीसर का इक़दाम

* उप चुनाव‌ के कारण‌ चीफ़ इलेक्टोरल ऑफीसर का इक़दाम
हैदराबाद (सियासत न्यूज़ ) रियास्ती चीफ़ इलेक्टोरल ऑफीसर ने रियासत के 12 जिलों में अगले माह मुनाक़िद होने वाले उप चुनाव के कारण‌ सरकारी मुलाज़मीन‍ ओर‌-ओहदेदारों के तबादलों से मुताल्लिक़ रियास्ती हुकूमत की तजवीज़ को 15 जून तक के लिए रोके रखने की हुकूमत से ख़ाहिश की ।

आज यहां अपने चैंबर में इन से मुलाक़ात करने वाले अख़बारी नुमाइंदों से निजी बातचीत करते हुए मिस्टर भंवरलाल रियास्ती चीफ़ इलेक्टोरल ऑफीसर ने ये बात कही और बताया कि हुकूमत ने सरकारी मुलाज़मीन और ओहदेदारों के तबादलों की इजाज़त मांगी थी । लेकिन 12 जिलो के 18 असेंबली हलक़ों में मुनाक़िद होने वाले उप चुनाव के कारण‌ 15 जून तक तबादलों की तजवीज़ को रोके रखने की ख़ाहिश की है ।

उन्हों ने कहा कि 18 असेंबली हलक़ों के लिए आज कुल‌ 19 पर्चा जात नामज़दगीयाँ दाख़िल किए गए ।जबकि इंतेख़ाबी एलामीया की तारीख़ से आज तक यानी तीन दिनों में कुल‌ 33 पर्चाजात नामज़दगीयाँ असेंबली हलक़ा जात के लिए और सिर्फ दो पर्चा जात नामज़दगीयाँ पार्लीमेंट्री हलक़ा के लिए दाख़िल किए गए ।

रियास्ती चीफ़ इलेक्टोरल ऑफीसर ने बताया कि तिरूपति में चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी की इंतेख़ाबी तक़रीर के दौरान मज़हबी बुनियाद पर वोट देने से मुताल्लिक़ ख़्याल जाहिर‌ करने की शिकायत पर ज़िला कलैक्टर चित्तूर से चीफ़ मिनिस्टर तक़रीर की सी डी तलब करली गई है और इस सी डी को शिकायती याददाश्त के साथ मर्कज़ी इलैक्शन कमीशन को रवाना करदी गई और वहां से मौसूल होने वाली हिदायात के मुताबिक़ असरदायक‌ इक़दामात किए जाएंगे ।

उन्हों ने कहा कि मज़हबी बुनियाद पर इंतेख़ाबी मुहिम किसी भी क़ाइदीन की तरफ‌ से चलाने पर मर्कज़ी इलैक्शन कमीशन हरगिज़ बर्दाश्त नहीं करेगा । इस के इलावा मिस्टर के चन्द्र शेखर राव ,रुकन पार्लीमेंन‍ ओर सदर तेलंगाना राष़्ट्रा समीती की तरफ‌ से भी मज़हबी बुनियादों पर इंतिख़ाबी मुहिम चलाने का इल्ज़ाम लगाया गया है और रियास्ती चीफ़ इलेक्टोरल ऑफ़िस इस सिलसिले में शिकायत मिलने के साथ ही ज़रूरी कार्रवाई करेगी ।

इस सवाल पर कि आया हलक़ा असेंबली परकाल के वाई एस आर कांग्रेस पार्टी उम्मीदवार श्रीमती कोन्डा सुरेखा के शौहर मिस्टर कोन्डा मुरली अपने बैंक खाता के ज़रीये रक़ूमात वोटर्स के बैंक अकाउंट्स में ट्रांसफ़र करवाने की मिलने वाली शिकायात का तफ़सीली जायज़ा लिया जाएगा और इस सिलसिले में ज़िला कलैक्टर वरंगल से ज़रूरी रिपोर्ट मंगवाइ जाएगी और इस शिकायत का जायज़ा लेने की भी हिदायत दी गई है ।

मिस्टर भंवरलाल ने बताया कि इंतेख़ाबी शैडूल की तारीख़ यानी 24 अप्रैल से आज तक 18 हलक़ा जात असेंबली में ग़ैर मजाज़ तौर पर मुंतक़िल किए जाने वाले लगभग‌ 17 करोड़ रुपय ज़बत किए गए और साथ ही साथ 1.23 लाख लीटर शराब भी ज़बत की गई ।

TOPPOPULARRECENT