सरकारी बंगला में क़ियाम से सचिन तेंदुलकर का इनकार

सरकारी बंगला में क़ियाम से सचिन तेंदुलकर का इनकार
क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने बहैसीयत रुकन ( सदस्य) राज्य सभा से उन्हें मिलने वाले सरकारी बंगले को कुबूल करने से इनकार कर दिया और कहा कि ऐसे बंगले में क़ियाम (रहने) से टैक्स दहिंदगान की दौलत बरबाद होगी। सचिन ने सी एन एन - आई बी एन से कहा कि

क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने बहैसीयत रुकन ( सदस्य) राज्य सभा से उन्हें मिलने वाले सरकारी बंगले को कुबूल करने से इनकार कर दिया और कहा कि ऐसे बंगले में क़ियाम (रहने) से टैक्स दहिंदगान की दौलत बरबाद होगी। सचिन ने सी एन एन – आई बी एन से कहा कि दिल्ली में चंद रोज़ा दौरा दिल्ली के मौक़ा पर में ऐसे किसी सरकारी बंगले में क़ियाम से कोई दिलचस्पी नहीं रखता क्योंकि मैं महसूस करता हूँ कि ऐसा करना टैक्स दहिंदगान की तरफ़ से दी जाने वाली रक़ूमात को बरबाद करने के मुतरादिफ़ होगा और बेहतर यही होगा कि ये बंगला किसी ऐसे शख़्स को दिया जाए जिस को मुझ से ज़्यादा ज़रूरत है।

तेंदलकर ने पीर ( सोमवार) को बहैसीयत रुकन पार्लीमेंट हलफ़ ( शपथ) लिया। उन्होंने कहा कि जब कभी वो दिल्ली का सफ़र करेंगे , किसी होटल में क़ियाम को तर्जीह देंगे । बहैसीयत रुकन (सदस्य) राज्य सभा नामज़दगी मेरे लिए एक एज़ाज़ है जो सरकारी बंगला के तौर पर मुझे मिलने वाली मुराआत (देख रेख) और सहूलतों से कहीं ज़्यादा एहमीयत की हामिल हैं। सरकारी बंगला हासिल ना करने से बहैसीयत रुकन (सदस्य) राज्य सभा मेरी ज़िम्मेदारीयों पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

Top Stories