सरकारी मदारिस में दर्जा चहारुम मुलाज़िमीन के तक़र्रुत नागुज़ीर

सरकारी मदारिस में दर्जा चहारुम मुलाज़िमीन के तक़र्रुत नागुज़ीर
सरकारी मदारिस में यूं तो नए टीचर्स की कमी की वजह कई मसाइल दर पेश हैं इस के अलावा टीचिंग ज़मुरा में निचली सतह के जायदादें अटेंडर (चपरासी )वाचमैन कई स्कूलस में नहीं हैं जिस की वजह से सरका के वाक़ियात होरहे हैं।

सरकारी मदारिस में यूं तो नए टीचर्स की कमी की वजह कई मसाइल दर पेश हैं इस के अलावा टीचिंग ज़मुरा में निचली सतह के जायदादें अटेंडर (चपरासी )वाचमैन कई स्कूलस में नहीं हैं जिस की वजह से सरका के वाक़ियात होरहे हैं।

असातिज़ा की नुमाइंदा तंज़ीम के क़ाइदीन सय्यद अहमद बुख़ारी ,इसरार अहमद ,ख़्वाजा मुईनुद्दीन ,अबदुलक़ुद्दूस ने अपने सहाफ़ती बयान में रियासत तेलंगाना के हुकूमत से पुर ज़ोर मुतालिबा किया कि वो सरकारी स्कूलस में दर्जा चहारुम के बेशुमार मख़लवा जायदादों जो कई अर्सा से तक़र्रुर तलब हैं उसकी निशानदेही करते हुए तक़र्रुत के आलामीया जारी करें इस से कई बुनियादी मसाइल भी हल होंगे और नाख़ुशगवार वाक़ियात का तदारुक होगा। वज़ीर-ए-ताअलीम जी जगदीश रेड्डी इस ज़िमन में ख़ुसूसी तवज्जा दे कर उन जायदादों पर भर्ती का एलान करें।

Top Stories