सरकार का फैसला, अब नहीं आएगा रेल बजट

सरकार का फैसला, अब नहीं आएगा रेल बजट
Click for full image

केंद्र सरकार ने रेलवे बजट को अलग से पेश करने की पुरानी प्रथा को खत्म करने का फैसला लिया है। अब अगले वित्त वर्ष से रेलवे बजट अलग से नहीं बल्कि आम बजट के साथ ही पेश होगा। ये भी कह सकते हैं कि यह अब आम बजट का ही हिस्सा होगा। इस तरह 1924 से चली आ रही 92 साल पुरानी परंपरा को खत्म कर दिया जाएगा। मिली जानकारी के मुताबिक, वित्त मंत्रालय भी रेलवे बजट को आम बजट में शामिल करने के लिए राजी हो गया है। TOI के मुताबिक, वित्त मंत्रालय ने सही फैसले पर पहुंचने के लिए पांच सदस्यों की टीम बनाई थी। उन्हीं की रिपोर्ट पर सब हुआ है। सुरेश प्रभु ने भी मंगलवार को राज्य सभा में कहा था कि उन्होंने वित्त मंत्रालय और वित्त मंत्री अरुण जेटली से रेल बजट को खत्म करने को कहा है। प्रभु ने कहा था कि इससे आने वाले वक्त में देश को आर्थिक फायदा होगा।

अब क्या होगा: अब रेलवे को भी वित्त मंत्रालय की तरफ से पैसा दिया जाएगा। जैसा कि बाकी मंत्रालयों को दिया जाता है। अब रेलवे द्वारा किए जा रहे खर्चे और कमाई पर वित्त मंत्रालय की भी नजर रहेगी।

Top Stories