सरकार की नई व्यवस्था, बैंकों के माध्यम से बनेंगे आधार कार्ड

सरकार की नई व्यवस्था, बैंकों के माध्यम से बनेंगे आधार कार्ड

नई दिल्ली। सरकार आधार कार्ड के लिए नई व्यवस्था शुरु करने जा रही है। ये नई व्यवस्था सरकार द्वारा इसलिए शुरु की जा रहा क्योंकि आधार कार्ड को बैंक खाते से लिंक करवाने में लोगों को काफी दिक्कतें आ रही हैं।

किसी के फिंगरप्रिंट मैच नहीं कर रहे हैं तो किसी के नाम और पते में दिक्कतें आ रही हैं। नई व्यवसथा के तहत आप किसी भी सरकारी या प्राईवेट बैंक में जा कर अपना आधार कार्ड यां उसमें किसी भी तरह का अपडेट कर सकते है।

सरकारी बैंकों के साथ ही प्राइवेट बैंकों में भी यह सुविधा उपलब्ध होगी। ये बैंक अपने ग्राहकों को ही आधार संबंधी सेवाएं प्रदान करेंगे। ग्राहकों को अपने आधार में किसी भी तरह के अपडेट या फिर नया आधार कार्ड बनवाने के लिए आधार सेंटर पर जाने की जरूरत नहीं होगी।

सरकार ने बैंक खाते से आधार लिंक करने के लिए 31 दिसंबर 2018 तक का वक्त दिया है इसके बाद जिन खातों से आधार लिंक नहीं है, वे ब्लॉक कर दिए जाएंगे और आधार कार्ड लिंक होने के बाद ही एक्टिव हो सकेंगे।

वित्त मंत्रालय ने 1 जून को नोटिफिकेशन जारी किया था कि सभी बैंख खातों से आधार नंबर लिंक होना जरूरी है। यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया के सीईओ अजय भूषण पांडेय ने कहा कि अधिकांश बैंकों ने आधार से खाते को लिंक करने की ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध कराई है, लेकिन बड़ी संख्या में लोग ऐसे भी हैं, जिनके आधार अपडेट नहीं हैं।

Top Stories