Wednesday , December 13 2017

सरकार के 1 लाख नौकरियों का वादा पूरा न करने पर हैदराबाद में हुआ प्रदर्शन

हैदराबाद: तेलंगाना जॉइंट एक्शन कमिटी के कन्वेनर एम्. कोडेंड्रम और वहा की बाकी नेताओं की गिरफ़्तारी पर ओस्मानिया यूनिवर्सिटी, निज़ाम कॉलेज, सिकन्द्राबाद पीजी कॉलेज और दूसरी संस्थाओं में छात्रों के विरोध प्रदर्शन और हिंसाओं की खबरें सामने आ रही हैं। छात्रों ने उन सब की रिहाई की मांग करते हुए रैली निकाल कर सरकार विरोधी नारे लगाए।

राज्य सरकार से वादे के मुताबिक़ 1 लाख नौकरी देने के मांग करते हुए टीजेएसी ने सुंदरिया विगनाना केंद्रीम से लेकर इंदिरा पार्क तक रैली निकालने का फैसला किया। लेकिन पुलिस द्वारा रैली के दौरान हिंसा के डर से अनुमति देने से इंकार कर दिया गया। ओस्मानिया यूनिवर्सिटी में पुलिस द्वारा रैली रोकने पर तनाव की स्थिति उतपन्न हुई यहा तक की प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने पुलिस पर पत्थरों से हमला किया। इसी दौरान कुछ गिरफ्तारियां भी हुई।

एक छात्र ने यूनिवर्सिटी के सामने खुदकुशी करने की कोशिश की और उसे गिरफ्तार कर लिया गया साथ ही शहर के विभिन्न हिस्सों में कांग्रेस पार्टी, लेफ्ट पार्टी और आम आदमी पार्टी के नेता और विपक्षी पार्टी से जुड़े छात्र कार्यकर्ताओं को भी गिरफ्तार किया गया। साथ ही निज़ाम कॉलेज में छात्रों द्वारा पत्थरों से हमला किया जाने पर एक सब इंस्पेक्टर घायल भी हुआ।

छात्रों और विभिन्न समूहों के नेताओं ने सिकंदराबाद के कमतिपुर पुलिस स्टेशन की घेराबंदी करने की कोशिश की उसी दौरान कोदंडराम और उसके समर्थकों को पुलिस द्वारा हिरासत में ले लिया गया। वहीं सावधानी बरतते हुए बुधवार सुबह को पुलिस ने टीजेएसी नेता को गिरफ़्तार कर पुलिस स्टेशन में डाल दिया।

वहीं जैसे ही पुलिस ने प्रदर्शनकारियो को गिरफ्तार किया और विरोध को रोकने की कोशिश की तो कई जगह रैलीयों पर रोक लग गयी। वहीं ओस्मानिया यूनिवर्सिटी जॉइंट एक्शन कमिटी ने गुरुवार को राज्य की सभी शिक्षा संस्थाओ को बन्द करने को कहा है। पुलिस ने कोई भी रैली और विरोध को रोकने के लिए इंदिरा पार्क के सभी रास्तों को ब्लाक कर दिया।

आपको बता दें की छात्रों ने तेलंगाना राष्ट्र समिति पर 1.07 लाख नौकरियां का वादा पूरा ना करने का आरोप लगाया है। साथ ही छात्रों ने सरकारी नौकरी और पब्लिक सेक्टर में सभी खाली पदों को भरने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाने की मांग की।

TOPPOPULARRECENT