Tuesday , November 21 2017
Home / India / सरकार देश को हिन्दू राष्ट्र बनाना चाहती है-ओवैसी

सरकार देश को हिन्दू राष्ट्र बनाना चाहती है-ओवैसी

हैदराबाद :  एम आई एम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मोदी सरकार पर सामान नागरिक सहिंता के ज़रिये देश को हिन्दू राष्ट्र बनाने की कोशिश का आरोप लगाया है।

हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ के मामलों में सरकार द्वारा हस्तक्षेप, मुसलमानों को दूसरी श्रेणी का नागरिक बताने की कोशिश कर रही है अनेकता और विविधता ही भारत की मजबूती और खूबसूरती थी ऐसे में धर्मनिरपेक्षता पर हमले से देश कमज़ोर होगा।

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड द्वारा आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने सामान नागरिक सहिंता का विरोध किया। यह सभा बुधवार को रात 8 बजे से आधी रात तक चली। सभी फ़िरक़ों और स्कुल ऑफ़ इस्लामिक विचार के प्रतिनिधियों ने जनसभा को संबोधित किया जिसमे हज़ारो की संख्या में महिलाएं भी मौजूद थी। सभी प्रवक्ताओं ने यह साफ़ करते हुए कहा की मुस्लिम पर्सनल लॉ में हम किसी भी तरह का कोई हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं करेंगे।

ओवैसी ने केंद्र सरकार द्वारा मुख्य न्यायालय में दिए अफ्फिडेविट का मज़ाक उड़ाते हुए कहा कि भारतीय मुसलमानों की तुलना पाकिस्तान या दूसरे देशों के मुसलमानो से करना ना सिर्फ भारतीय मुसलमानो का अपमान है बल्कि पुरे देश का अपमान है। ओवैसी ने इस बात पर ज़ोर देते हुए कहा कि पाकिस्तान में व्यवहारिक लोकतंत्र है ही नहीं और बाक़ी देश जिनका हवाला अफ्फिडेविट में दिया गया है वहां राजतंत्र है और उनकी तुलना भारत से नहीं की जा सकती। सांसद ने सरकार को चुनौती देते हुए कहा की मिज़ोराम और नागालैंड का विशेष दर्ज़ा हटाया जाये और गोवा के विवाह कानून को ख़त्म किया जाये।

TOPPOPULARRECENT