Thursday , September 20 2018

सरहदी इलाका वापस लेने के लिए सऊदी आर्मी का आप्रेशन नाकामयाब कई सैनिकों की मौत

सऊदी : यमन पर सऊदी अरब की ओर से जारी भीषण बमबारी के जवाब में यमनी सेना और स्वयंसेवी बलों ने सऊदी अरब के सीमावर्ती नजरान प्रांत के कई क्षेत्रों पर क़ब्ज़ा कर रखा जिन्हें छुड़ाने के लिए सऊदी सेना ने एक बड़ा आप्रेशन शुरू किया लेकिन आप्रेशन पूरी तरह विफल हो गया। नजरान के क्षेत्रों को वापस लेने के प्रयास के दौरान सऊदी सेना को भारी नुक़सान भी उठाना पड़ा है लेकिन सऊदी अरब में मीडिया पर भारी सेंसर के कारण यह नहीं पता चल सका है कि सऊदी अरब के कितने सैनिक इस आप्रेशन में मारे गए।

सऊदी अरब के जीज़ान प्रांत मेअज़ाब क्षेत्र में भी यमनी सुरक्षा बलों ने सऊदी सैनिकों पर राकेटों से हमला किया। सऊदी सैनिक यमन के तइज़्ज़ प्रांत के भीतर भी मौजूद हैं जहां उनके एक ठिकाने को यमनी सेना और स्वयंसेवी बलों ने अपने हमले का निशाना बनाया है। दूसरी ओर राजधानी सनआ के सबईन नामक मैदान में सोमवार को स्थानीय लोग प्रदर्शन करेंगे और राजनैतिक समझौते के समर्थन की घोषणा करेंगे। इसी बीच सऊदी अरब के रक्षा मंत्री के सलाहकार ने एक हास्यास्पद बयान देते हुए कहा कि विश्व समुदाय कुवैत वार्ता का अंजाम निर्धारित करे।

अहमद अलअसीरी ने आरोप लगाया कि यमनी पक्ष वार्ता में विघ्न डाल रहे हैं जबकि यमन के लोगों का कहना है कि सऊदी अरब के कारण वार्ता किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पा रही है। अहमद अलअसीरी ने कहा कि सीमाएं हमारी लाल रेखा हैं और हमन इनका हनन बर्दाश्त नहीं करेंगे। ज्ञात रहे कि 26 मार्च 2015 को सऊदी अरब ने अचानक यमन पर बमबारी शुरू कर दी थी जो अब तक जारी है।

TOPPOPULARRECENT