Sunday , December 17 2017

सरेआम काट दिया दो मासूम भाइयों का गला

तंत्र-मंत्र के चक्कर में एक नौजवान ने कानपुर के सरसैया घाट पर पड़ोस में रहने वाले चार और आठ साल के दो सगे भाइयों की सरेआम गला काट डाला । उसने तीसरे भाई को भी मारने की कोशिश की।

तंत्र-मंत्र के चक्कर में एक नौजवान ने कानपुर के सरसैया घाट पर पड़ोस में रहने वाले चार और आठ साल के दो सगे भाइयों की सरेआम गला काट डाला । उसने तीसरे भाई को भी मारने की कोशिश की।

जब पुलिस के एक जवान ने खून से सने चाकू के साथ कातिल को दबोच लिया। इसके बाद मुहल्ले वालों ने उसे लात-घूंसों से पीटकर पुलिस को सौंप दिया।

बिहार के मुंगेर का रहने वाला टिंकू पाल बीवी हीरा, बेटे गोलू (10), साहिल (8), कार्तिक (4) और बेटी आरती (9) के साथ सरसैया घाट के पास रहता है। टिंकू और हीरा कबाड़ बेचकर चारों बच्चों का पेट पालते हैं।

टिंकू ने बताया कि पड़ोस में रहने वाले रिक्शा ड्राईवर राजेश मांझी के बेटे शुभम की बुध के दिन मौत हो गई थी। वह बुखार से मुतास्सिर था। राजेश को शक था कि उसने और हीरा ने जादू-टोना किया, जिससे शुभम की मौत हुई। इसी बात पर वह नाराज था।

जुमेरात की सुबह तकरीबन 7:45 बजे साहिल और कार्तिक घर के पास जनाना घाट के सामने दोस्त विशाल व सनी के साथ खेल रहे थे। तभी राजेश सब्जी वाला चाकू लेकर वहां पहुंचा। उसने पहले साहिल को दबोचा और सड़क पर पटक कर उसकी गर्दन रेत दी। इसके बाद कार्तिक को सड़क पर गिराकर उसकी भी गर्दन रेत दी।

चीखें सुनकर गोलू वहां पहुंचा तो राजेश ने उसे भी पकड़ लिया और गर्दन रेतने की कोशिश की। यह देख मुहल्ले वाले और जल पुलिस का एक जवान भी पहुंच गया। लोगों ने उसे पकड़ कर लात-घूंसों से पीटा।

इत्तेला मिलने पर पुलिस कातिल राजेश को थाने ले गई। राजेश ने वहां अपना जुर्म कुबूल कर लिया। टिंकू पाल का इल्ज़ाम है कि उनके बेटों के कत्ल की साजिश में मुहल्ले के राजाराम और महेश बाबा भी शामिल हैं। पुलिस ने इन दोनों को भी हिरासत में ले लिया है।

बशुक्रिया: अमर उजाला

TOPPOPULARRECENT