Sunday , December 17 2017

सर्वे आफ़ इंडिया का आंध्र कर्नाटक सरहद पर सर्वे

सर्वे आफ़ इंडिया की एक टीम ने आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के ओहदेदारों की मदद से बेल्लारी ज़िला में दोनों रियासतों की सरहद पर सर्वे का काम शुरू क्या।

सर्वे आफ़ इंडिया की एक टीम ने आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के ओहदेदारों की मदद से बेल्लारी ज़िला में दोनों रियासतों की सरहद पर सर्वे का काम शुरू क्या।

ये सर्वे फ़ौलादी कचधात की गै़रक़ानूनी कानकनी की इत्तेलाआत के पस-ए-मंज़र में किया जा रहा है। सर्वे आफ़ इंडिया टीम स्वर्णा सुबह राव‌ की क़ियादत में दोनों रियासतों के माइनस ऐंड जियालोजी के ओहदेदारों की मदद से बेल्लारी ज़िला में ये सर्वे शुरू किया है और वहां दोनों रियासतों के माबैन सरहदी निशान के पत्थर नसब करेंगे।

ओबलापुरम माइनिंग कंपनी ने आंध्र प्रदेश से मिलने वाली सरहद पर कुछ इलाक़ा को अपना हिस्सा ज़ाहिर करते हुए वहां गै़रक़ानूनी कानकनी की है।

इस कंपनी से ही कर्नाटक के साबिक़ वज़ीर गाली जनार्धन रेड्डी वाबस्ता हैं। सुप्रीम कोर्ट ने दोनों रियासतों के माबैन सरहद के मुक़द्दमा में कर्नाटक हुकूमत से कहा था कि वो इन बे क़ाईदगियों को दूर करने सर्वे आफ़ इंडिया की मदद करें। पिछ्ले अक्टूबर में दोनों रियासतों के वज़िरे माल ने सुप्रीम कोर्ट की हिदायत के मुताबिक़ मीटिंग में तफ़सीलात का ग़ौर-ओ-ख़ौज़ किया था

TOPPOPULARRECENT