Saturday , January 20 2018

सर्वे में सामने आया 33 फीसदी हिंदू मुस्लिमों को अपना सच्चा दोस्त मानते हैं

क्या लोग दोस्ती भी धर्म और जाति देखकर करते है ? सेंटर फॉर द स्टडी ऑफ डेवलपिंग सोसाइटीज (सीएडीएस) द्वारा इस सन्दर्भ में किए गए एक सर्वे में सामने आया है कि ज्यादातर लोग अपने ही धर्म के लोगों के साथ दोस्ती के बंधन में बंधन पसंद करते हैं। किसी को दोस्त बनाने से पहले लोग उसके धर्म और जाति पर ख़ास ध्यान देते हैं।

इस सर्वे की रिपोर्ट के मुताबिक 91 प्रतिशत हिंदुओं और 95 प्रतिशत मुसलामानों के खास दोस्त उनके ही समुदाय से होते हैं। जबकि सिर्फ 33 फीसदी हिंदू लोग ही किसी मुस्लिम को अपना सच्चा दोस्त मानते हैं और ७४ प्रतिशत मुस्लिम हिंदुओं से ये ख़ास रिश्ता रखते हैं।

सर्वे के अनुसार 13 प्रतिशत हिंदू मानते हैं कि मुसलामानों को ‘पक्के देशभक्त’ और ईसाईयों को देशभक्त मानने वाले हिन्दू 20 प्रतिशत हैं। जबकि सिखों के लिए यह आंकड़ा 47 फीसदी का है। इसके अलावा 77 फीसदी मुसलमान अपने समुदाय के लोगों को पक्का देशभक्त मानते हैं।

TOPPOPULARRECENT