Monday , January 22 2018

सलमान बट और मुहम्मद आमिर की दरख़ास्तें मुस्तर्द

लंदन 25 नवंबर (ए एफ़ पी) बर्तानवी अदालत ने पाकिस्तानी क्रिकेटर्ज़ सलमान बट और मुहम्मद आमिर की सज़ा के ख़िलाफ़ अपील मुस्तर्द करदी है। लार्डज़ चीफ़ जस्टिस इगोर जज ने अपने फ़ैसले में कहा कि ये कुरप्शन केस था जो ठोस शवाहिद और मेहनत के बाद तैय्

लंदन 25 नवंबर (ए एफ़ पी) बर्तानवी अदालत ने पाकिस्तानी क्रिकेटर्ज़ सलमान बट और मुहम्मद आमिर की सज़ा के ख़िलाफ़ अपील मुस्तर्द करदी है। लार्डज़ चीफ़ जस्टिस इगोर जज ने अपने फ़ैसले में कहा कि ये कुरप्शन केस था जो ठोस शवाहिद और मेहनत के बाद तैय्यार किया गया था। फ़ैसले के बाद दोनों खिलाड़ियों की सज़ाएं बरक़रार रहेंगी।

कोर्ट आफ़ अपील में होने वाली समाअत में सलमान बट और मुहम्मद आमिर के वुकला ने सज़ा के ख़िलाफ़ दलायल पेश किए ताहम दोनों खिलाड़ी अदालत में पेश नहीं हुई। सलमान बट के वकील अली बाजवा ने कहा कि इस केस में7 साला सलमान बट को दी गई0 माह की सज़ा ज़्यादा है उसे कम किया जाए। सलमान बट ने कोई नो बाल नहीं कराई थी। मुहम्मद आमिर के वकील गीरथ पैरिस ने कहा कि इन के मुवक्किल अपनी ग़लती तस्लीम कर के पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड और अवाम से माफ़ी मांग चुके हैं, वो तीन हफ़्ते यंग आफ़ीनडरज़ में गुज़ार चुके हैं अब उन्हें रिहा कर दिया जाए।

रिहाई की सूरत में9 साला मुहम्मद आमिर लंदन में कम्यूनिटी सर्विस अंजाम देंगी। जस्टिस लार्डज़ ने दोनों खिलाड़ियों के वुकला के दलायल सुनने के बाद फ़ैसला सुनाते हुए कहाकि खिलाड़ियों को मालूम होना चाहीए था कि कुरप्शन की सज़ा कितनी है। पाकिस्तान ने खिलाड़ियों को शौहरत दी जिस को उन्हों ने बदनाम किया। ये कोई डिसिप्लिन की ख़िलाफ़वरज़ी नहीं बल्कि कुरप्शन है इस लिए उन की सज़ा में कमी की अपील मुस्तर्द की जाती है।

TOPPOPULARRECENT