Monday , December 11 2017

सलमान ख़ुरशीद का ब्यान सिर्फ एक सयासी क़ाइद का ब्यान था

मर्कज़ी वज़ीर सलमान ख़ुरशीद को बिल आख़िर अपने एक मुतनाज़ा बन जाने वाले ब्यान की ताईद करने वाला कोई मिल ही गया। और वो कोई और नहीं बल्कि उन के ही साथी वीरप्पा मोईली हैं। मिस्टर मोईली ((veerappa moily)) ने सलमान ख़ुरशीद का दिफ़ा करते हुए कहा कि ज़िमनी

मर्कज़ी वज़ीर सलमान ख़ुरशीद को बिल आख़िर अपने एक मुतनाज़ा बन जाने वाले ब्यान की ताईद करने वाला कोई मिल ही गया। और वो कोई और नहीं बल्कि उन के ही साथी वीरप्पा मोईली हैं। मिस्टर मोईली ((veerappa moily)) ने सलमान ख़ुरशीद का दिफ़ा करते हुए कहा कि ज़िमनी कोटा के मुताल्लिक़ मौसूफ़ ने जो ब्यान दिया था वो बहैसीयत एक सयासी क़ाइद दिया था और इलेक्शन कमीशन को इस नुक्ता पर ग़ौर करना चाहीए था।

इलेक्शन कमीशन ने सलमान ख़ुरशीद के ख़िलाफ़ जो कार्रवाई की है इस के मुताल्लिक़ अख़बारी नुमाइंदों से इस्तिफ़सार किए जाने पर वीरप्पा मोईली (veerappa moily)ने कहा कि कभी कभी हम सयासी क़ाइद की हैसियत से ब्यानात देते हैं। वीरप्पा मोईली वज़ीर बराए कॉरपोरेट उमूर हैं और सलमान ख़ुरशीद से क़बल वज़ात क़ानून का क़लमदान उन के पास था।

उन्होंने कहा कि सलमान ख़ुरशीद ने बहैसीयत एक सयासी क़ाइद ब्यान दिया था, बहैसीयत वज़ीर नहीं। लिहाज़ा ब्यानात की पकड़ नहीं होनी चाहीए । हम इस बात से मुत्तफ़िक़ हैं कि इंतेख़ाबी ज़ाबता अख़लाक़ का एहतिराम किया जाना चाहीए, लेकिन बाअज़ वक़्त बाअज़ ज़रूरी ब्यानात जारी करना नागुज़ीर हो जाता है।

TOPPOPULARRECENT