Wednesday , December 13 2017

ससुरालवालों की इस्तहसाल से टावर पर चढ़ी डेंटल कॉलेज की तालेबा

ससुरालवालों की इस्तहसाल से ऊब कर डेंटल कॉलेज में पढ़नेवाली ममता इंसाफ के लिए पीर की सुबह सरैयागंज वाक़ेय टावर पर चढ़ गयी। उसे उतारने के लिए डेढ़ घंटे तक ड्रामा चला। मौके पर पहुंची पुलिस की भी वह सुनने को तैयार नहीं थी।

ससुरालवालों की इस्तहसाल से ऊब कर डेंटल कॉलेज में पढ़नेवाली ममता इंसाफ के लिए पीर की सुबह सरैयागंज वाक़ेय टावर पर चढ़ गयी। उसे उतारने के लिए डेढ़ घंटे तक ड्रामा चला। मौके पर पहुंची पुलिस की भी वह सुनने को तैयार नहीं थी।

काफी मशक्कत के बाद खातून थाने के पहुंचने पर उसे उतारा गया। वह पुलिस के सामने ही फूट-फूट कर रोने लगी। उसने बताया कि शौहर, सास, ससुर, ननद समेत दीगर लोग उसे इस्तहसाल करते हैं। उसे पांच साल का बेटा भी है। खातून थाना इंचार्ज मंजु सिंह समझा-बुझा कर उसे थाने लायीं। उसने ससुरालवालों के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी है। पुलिस का कहना है कि ससुराल के लोगों से राब्ता कर थाने आने को कहा गया है। बातचीत के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी।

जानकारी के मुताबिक, मुंगेर की रहनेवाली ममता ने छह साल पहले मिठनपुरा थाना इलाक़े के बीएमपी के पास रहनेवाले राजीव मिश्रा से शादी की थी। उसके शौहर ठेकेदारी करते हैं। दोनों की शादी आपसी मुहब्बत से देवघर मंदिर में हुआ था। उसके वालिद जिला सनअत सेंटर में आला अफसर हैं। खातून थाने में ममता ने बताया कि ससुरालवाले उसे परेशान करते हैं। उसके ससुर लाल बाबू मिश्रा का रजिस्ट्रेशन दफ्तर के नजदीक होटल का कारोबार है। वे कातिब का भी काम करते हैं।

पीर की सुबह वह किसी तरह घर की छत से कूद कर भागी है। सुबह पौने नौ बजे के आसपास टावर पर उसे चढ़ा देख लोगों की भीड़ जुट गयी। वह बार-बार वालेदाइन से बात कराने के लिए बोल रही थी। इधर, खातून थाना इंचार्ज ने बताया कि ससुराल के लोगों से राब्ता किया गया है। ममता भी बार-बार बयान बदल रही है। मायकेवालों से भी राब्ता साधा गया है। आला अफसरों की हिदायत पर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

TOPPOPULARRECENT