Saturday , December 16 2017

ससुराल में 30 घंटे से दरवाजे पर बैठी दुल्हन

बिहार में बेगूसराय के मंसूरचक ब्लॉक के मकदमपुर गांव में 30 घंटों से एक दुल्हन ससुराल में दरवाजे पर बैठी है। लेकिन उसकी खबर लेने के लिए न तो उसके ससुराल वाले आगे आ रहे हैं और न ही इंतेजामिया सतह पर अब तक कोई पॉज़िटिव पहल की गई है। हालां

बिहार में बेगूसराय के मंसूरचक ब्लॉक के मकदमपुर गांव में 30 घंटों से एक दुल्हन ससुराल में दरवाजे पर बैठी है। लेकिन उसकी खबर लेने के लिए न तो उसके ससुराल वाले आगे आ रहे हैं और न ही इंतेजामिया सतह पर अब तक कोई पॉज़िटिव पहल की गई है। हालांकि काशीदगी की इत्तिला के बाद पुलिस को तैनात कर दिया गया है।

इतवार दोपहर भूख-प्यास से बेहाल दुल्हन की हालत बिगड़ती देख मंसूरचक पीएचसी के डॉक्टर इंचार्ज डॉं. कर्पूरी प्रसाद की कियादत में डॉक्टरों की टीम ने उसके सेहत की जांच की। लड़की के भूखी-प्यासी रहने पर डॉक्टरों ने फिक्र जाहिर की है। बता दें कि रियासत खातून कमीशन व खातून ब्रिगेड की मेंबरों ने शनिचर को बैंड-बाजे के साथ प्रीति को ससुराल पहुंचाया था। उसके ससुर अर्जुन ठाकुर व पति धीरज कुमार ने यह कहते हुए प्रीति को बहू मानने से इनकार कर दिया कि उसकी शादी धरपकड़ कर जबरदस्ती की गई थी।

काफी मान-मनौव्वल के बाद भी दूल्हे के लोग दुल्हन को घर में रहने देने को तैयार नहीं हुए। दूल्हे के लोग का अडियल रवैया देख खातून ब्रिगेड व रियासती खातून कमीशन की मेम्बर रीना कुमारी लड़की को ससुराल में घर के बरामदे में बैठाकर लौट गईं। तब से प्रीति भूखे-प्यासे बरामदे पर ही बैठी हुई है।

TOPPOPULARRECENT