Thursday , September 20 2018

साइना नेहवाल ने सिंधु को हराकर जीता गोल्ड मेडल

लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता सायना नेहवाल ने हमवतन और रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता पी.वी. सिंधु को हराकर आॅस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हो रहे 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में अंतिम दिन रविवार को महिला एकल वर्ग का स्वर्ण पदक अपने नाम किया. सायना ऐसे में राष्ट्रमंडल खेलों में दो स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई हैं. सिंधु को हार के कारण रजत पदक से संतोष करना पड़ा.

वर्ल्ड नम्बर-12 सायना ने इससे पहले 2010 में दिल्ली में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण पदक अपने नाम किया था.

लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता सायना ने सिंधु को 56 मिनट तक चले इस मैच में 21-18, 23-21 से मात देकर राष्ट्रमल खेलों का दूसरा स्वर्ण पदक अपने नाम किया.

सायना ने पहले गेम में अच्छी शुरुआत की और उन्होंने 8-4 से बढ़त हासिल की. अधिक अनुभवी होने के कारण सायना ने सिंधु को अधिक अंक नहीं लेने दिए. हालांकि सिंधु ने अच्छी वापसी करने की कोशिश की और स्कोर 18-20 कर लिया. यहां सायना ने एक अंक लेते हुए गेम 21-18 से अपने नाम कर लिया.


दूसरे गेम में वर्ल्ड नम्बर-3 सिंधु ने अच्छी शुरुआत की थी और उन्होंने 7-5 से बढ़त हासिल की. सायना ने अंक लेते हुए स्कोर 8-10 कर लिया.

सिंधु ने यहां फिर अंक लेते हुए 16-14 से फिर बढ़त हासिल कर ली. वह अच्छे अंक लेते हुए बढ़त बनाए हुए थी, लेकिन सायना ने अपने अनुभव का फायदा उठाते हुए शानदार वापसी की और 20-20 से बराबरी कर ली.

इसके बाद, सायना ने यहां फिर 21-20 से बढ़त बनाई. सिंधु ने एक अंक लेकर 21-21 से स्कोर बराबर कर लिया, लेकिन सायना ने दो अंक बटोरने के साथ ही 23-21 से दूसरा गेम अपने नाम करने के साथ स्वर्ण पदक पर कब्जा जमा लिया.

सिंधु को भले ही रजत पदक से संतोष करना पड़ा हो, लेकिन वह 2014 में ग्लास्गो में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में मिले कांस्य पदक के रंग को बदलने में कामयाब रही हैं.

TOPPOPULARRECENT