Monday , December 11 2017

साई बाबा मंदिर की सेक्योरिटी CISF के हवाले करने का मुतालिबा

शिर्डी, 05 दिसंबर (पीटीआई) महाराष्ट्रा के वज़ीर-ए-ज़राअत राधा कृष्णा विखे पाटिल ने मर्कज़ी वज़ारत-ए-दाख़िला को एक मकतूब तहरीर करते हुए साई बाबा मंदिर की सेक्योरिटी CISF के हवाले करने की दरख़ास्त की है।

शिर्डी, 05 दिसंबर (पीटीआई) महाराष्ट्रा के वज़ीर-ए-ज़राअत राधा कृष्णा विखे पाटिल ने मर्कज़ी वज़ारत-ए-दाख़िला को एक मकतूब तहरीर करते हुए साई बाबा मंदिर की सेक्योरिटी CISF के हवाले करने की दरख़ास्त की है।

पी टी आई से बात करते हुए उन्होंने कहा कि साई बाबा मंदिर एक मशहूर-ओ-मारूफ़ मुक़ाम है और उसकी सेक्योरिटी को दहशतगर्दों से गुज़शता 8 सालों से ख़तरा लाहक़ है। उन्होंने कहा कि पुलिस के इलावा मंदिर की जानिब से फ़राहम की जाने वाली ख़ानगी सेक्योरिटी भी नाकाफ़ी है।

विखे पाटिल असेंबली में शिर्डी हल्क़ा इंतेख़ाब की नुमाइंदगी करते हैं। उन्होंने मज़ीद कहा कि ये बात एक बार नहीं बल्कि कई बार नोट की गई है कि मंदिर के बाब अलद अखिला पर लोगों की मुनासिब जांच पड़ताल नहीं की जाती। यहां तक कि मंदिर में नसब किए गए CCTV कैमरों की भी मुनासिब निगरानी नहीं की जाती। सालाना दो करोड़ अकीदतमंद यहां आते हैं ।

TOPPOPULARRECENT