सात हज़ार रुपये की चक्कर में लगा 48 हज़ार का चूना

सात हज़ार रुपये की चक्कर में लगा 48 हज़ार का चूना

मुंबई: 7 हज़ार रुपये के पुराने नोट बदलवाने के चक्कर में एक शख़्स अड़तालीस हज़ार रुपये से वंचित‌ हो गया। मुंबई से संब‍ध‌ रखने वाले विजय कुमार मारवा पिछले महीने अपने घर की सफ़ाई कर रहे थे कि उन्हें सात हज़ार रुपये के पुराने नोट कहीं रखे नज़र आए। क्योंकि पुराने नोटों की बदलने का समय‌ ख़त्म हो चुका है लिहाज़ा उन्होंने जानकारी जानने के लिए इंटरनेट के ज़रीये आर बी आई की हेल्पलाइन का फ़ोन नंबर हासिल किया और फ़ोन पर शिकायत दर्ज करवाई।

जिसके बाद किसी शख़्स ने उनसे संपर्क‌ करते हुए उनके बैंक की जानकारी ए टी एम कार्ड की जानकारी और ओ टी पी नंबर भी हासिल कर लिया। उसने सभी चीज़ो को बता दिया जिसके बाद उनके एकाऊंट से 48 हज़ार रुपये दूसरे एकाऊंट में भेज‌ दिए गए। मारवा परेशान हो गए और जानकारी हासिल करने के लिए आर बी आई पहुंचे तो उन्हें हकीकत‌ का मालूम‌ हुई कि उन्हें ठग लिया गया है।

दरअसल इंकुआयरी नंबर जो उन्होंने इंटरनेट पर देखा था वो आर बी आई का नंबर नहीं था धोके बाज़ों ने आर बी आई के नाम से फ़ोन नंबर वेबसाइट पर अपलोड किया था ताकि लोगों को अपना निशाना बना सकें। रिज़र्व बैंक आफ़ इंडिया के आफ़िसरों का कहना है कि किसी भी मामले के लिए सीढा उनकी वेबसाइट पर विवरण लिया जाना चाहिए।

Top Stories