Thursday , November 23 2017
Home / International / सादिक़ खान ने डॉनल्ड ट्रंप के “अमेरिका में स्वागत” वाले प्रस्ताव को ठुकराया

सादिक़ खान ने डॉनल्ड ट्रंप के “अमेरिका में स्वागत” वाले प्रस्ताव को ठुकराया

लंदन: लंदन के लन्दन के नए और पहले मुस्लिम मेयर सादिक ने डॉनल्ड ट्रंप के उस प्रस्ताव को ठुकरा दिया है जिसमें ट्रंप ने कहा था कि सादिक़ खान अगर अमरीका आते हैं तो उनका स्वागत किया जायेगा उन पर कोई प्रतिबन्ध नहीं होगी. उल्लेखनीय है कि अमरीकी राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी की दौड़ में शामिल डॉनल्ड ट्रंप ने बयान दिया था कि चरमपंथी हमले रोकने के लिए मुसलमानों के अमरीका में आने पर प्रतिबन्ध लगाना ज़रूरी है. आपको बता दें कि इससे पहले ट्रंप ने सादिक़ ख़ान को लंदन के मेयर बनाए जाने पर “खुशी” ज़ाहिर करते हुए कहा था कि “अगर वो अच्छा काम करते हैं तो वो एक ज़बरदस्त चीज़ होगी.”

सादिक़ ख़ान ने उसके अमेरिका आने केलिए दी गयी पेशकश को ठुकराते हुए कहा,कि “ये सिर्फ़ मेरी बात नहीं है. ये मेरे दोस्तों और मेरे परिवार के बारे में भी है और उन सबके लिए भी है जो मेरी जैसी ही बैकग्राउंड से आते हैं और दुनिया में कहीं भी आज़ादी से रहते हैं.” सादिक़ खान ने आगे कहा कि डॉनल्ड ट्रंप के इस्लाम के बारे में “लाइल्मी से भरे विचारों” से “दोनो देशों की सुरक्षा प्रभावित हो सकती है.” टाइम पत्रिका को बताते हुए साद़िक खान ने चिंता जताते हुए कहा था कि मैं अमरीका जाना चाहताहूँ और  अमरीका के विभिन्न शहरों के मेयरों से मिलना चाहता हूँ लेकिन ‘मैं मुसलमान हूं और मुमकिन है कि मैं अमरीका का दौरा नहीं कर पाऊँ, अगर ट्रंप अमरीका के राष्ट्रपति चुने जाते हैं.’

सादिक खान किसी भी यूरोपीय देश की राजधानी के मेयर बनने वाले पहले मुसलमान हैं. उनके पिता एक बस ड्राइवर थे जो पाकिस्तान से लंदन जाकर बस गए थे. पेशे से वकील सादिक़ ख़ान का अब तक का जीवन मुश्किलों पर जीत की मिसाल रहा है,

 

TOPPOPULARRECENT