Tuesday , July 17 2018

साबिक़ सोवीयत ममालिक के हज़ारों अफ़राद दौलते इस्लामीया के साथी

रूस के सदर विलादीमीर पुतीन का कहना है कि शाम में रूस और दीगर साबिक़ा सोवीयत रियास्तों के पाँच हज़ार से सात हज़ार अफ़राद ख़ुद को दौलते इस्लामीया कहने वाली शिद्दत पसंद तंज़ीम के लिए लड़ रहे हैं।

इलाक़ाई फोरम से बात करते हुए रूसी सदर का कहना था कि अगर दौलते इस्लामीया कि जंगजू वापिस आए तो वो मुल्क के लिए बहुत बड़ा ख़तरा हो सकते हैं। विलादीमीर पुतीन ने तंबीह की कि अफ़्ग़ानिस्तान में जारी फ़सादाद वस्त एशिया में भी फैल सकते हैं।

उनका कहना था कि अफ़्ग़ानिस्तान में सूरते हाल नाज़ुक होती जा रही है और वस्त एशिया के ममालिक को किसी भी किस्म के रद्दे अमल के लिए तैयार रहना चाहिए।

कज़ाकिस्तान में कॉमनवेल्थ ऑफ़ इंडिपेंडेंस स्टेटस यानी सी आई एस के इजलास में बात करते हुए रूसी सदर का कहना था कि मुख़्तलिफ़ तन्ज़ीमों के शिद्दत पसंद मज़ीद बाअसर होते जा रहे हैं और वो अपनी कार्यवाईयों की मंसूबा बंदी को छुपा भी नहीं रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT