सारण गैंगरेप में ख़ुलासा- नाबालिग बेटे और प्रिंसिपल पिता ने बार-बार किया था रेप

सारण गैंगरेप में ख़ुलासा- नाबालिग बेटे और प्रिंसिपल पिता ने बार-बार किया था रेप
Click for full image

बिहार के सारण में 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा के साथ 18 लोगों के दुष्कर्म करने के मामले में आज एक और शर्मसार कर देने वाला खुलासा हुआ है। अभी तक छात्रा के साथ 18 लोगों के दुष्कर्म करने की पुलिस रिपोर्ट सामने आई थी।

छात्रा की तहरीर में यह भी कहा गया है कि उसके साथ दुष्कर्म करने वालों में स्कूल के प्रिंसिपल का नाबालिग बेटा भी था। प्रिंसिपल के बेटे ने छात्रा के साथ चाकू के नोक पर दुष्कर्म किया था। नाबालिग बेटे के बाद प्रिंसिपल ने छात्रा की इज्जत के साथ खिलवाड़ किया था।

वॉशरूम, ऑफिस और क्लास रूम तक पीड़िता हैवानियत की शिकार हुई थी। गुरु-शिष्या के रिश्ते को कलंकित करने वाली हरकतों का खुलासा छात्रा द्वारा की गयी एफआईआर में हुआ था।

प्रिंसिपल की हरकतों की जानकारी पीड़ित छात्रा ने पुलिस को दी थी। छात्रा ने कहा है कि जान से मार देने की धमकी देकर प्रिंसिपल ने साथियों के साथ उसका दुष्कर्म किया।

छात्रा ने एफआईआर में कहा है कि-छह महीने पहले मेरे साथ पढ़ने वाले तीन छात्रों ने वॉशरूम में चाकू दिखाकर दुष्कर्म किया। वह खून से लथपथ थी। उसके बाद तीनों आरोपी स्कूल से भाग गये।

वो रोते हुए वॉशरूम से बाहर निकली तो उसे स्कूल का प्रिंसिपल दिखा। छात्रा ने प्रिंसिपल को आपबीती सुनाई। तब प्रिंसिपल ने वापस वॉशरूम में ले जाकर यह बात किसी अन्य से नहीं कहने की चेतावनी दी और कहा कि बताने पर जान से मार देंगे। उन्होंने छात्रा के कपड़े साफ करवाये और घर भेज दिया।

करीब दस दिनों बाद छात्रा स्कूल गयी तो प्रिंसिपल ने छुट्टी के बाद उसे रोका और ऑफिस में बुलाया। आरोपी प्रिंसिपल ने छात्रा के साथ ऑफिस में दुष्कर्म किया। दस-बारह दिनों बाद स्कूल के दो शिक्षक व प्रिंसिपल ने फिर छात्रा के साथ दुष्कर्म किया। आरोपी छुट्टी के बाद प्राय: छात्रा का यौन शोषण करने लगे।

छात्रा का आरोप है कि प्रिंसिपल और शिक्षकों के अलावा स्कूल के एक दर्जन से अधिक छात्रों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। 4 जुलाई को प्रार्थना के बाद पानी पीने गयी तो वॉशरूम में दुष्कर्म किया गया। फिर 5 जुलाई को सुबह आठ बजे सभी लड़कों ने उसके साथ मारपीट की और सामूहिक दुष्कर्म किया।

Top Stories