Sunday , September 23 2018

सारे तेलंगाना में तहफ़्फुज़ात तहरीक की गूंज मुसलमानों की इन्फ़िरादी-ओ‍इजतेमाई नुमाइंदगीयाँ

हैदराबाद 19 सितंबर: मुसलमानों के लिए 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात की तहरीक तेलंगाना में दिन बह दिन शिद्दत इख़तियार करती जा रही है । रोज़नामा सियासत की शुरू करदा तहरीक से तेलंगाना का मुस्लमान इन्फ़िरादी और इजतेमाई तौर पर जुड़ने लगा है।

मिली सियासी समाजी हर तरह से तहरीक की मज़बूत करने कोशिश जारी है और मुसलमानों में ये एहसास पैदा हो गया कि जब तक मुस्लमान तहफ़्फुज़ात के लिए कमर-बस्ता नहीं होंगे तहफ़्फुज़ात मिलना यक़ीनी नहीं हो सकता।

इन्फ़िरादी-ओ-इजतेमाई कोशिशों से ही बी सी कमीशन का क़ियाम यक़ीनी होगा और तहफ़्फुज़ात हासिल होंगे। तेलंगाना 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात से कम अज़ कम 10 हज़ार मुस्लिम ख़ानदानों को फ़ायदा होगा और हर साल 300 डॉक्टर्स-ओ-200 बी डी एस तलबा के अलावा मुसलमानों को तालीमी मैदान में बेशुमार फ़ायदे होंगे।

ख़ालिस क़ौम के फ़ायदा और नौजवानों मुस्लिम नसल की ताअमीर-ए-नौ की ग़रज़ से सियासत ने इस तहरीक का आग़ाज़ किया और तेलंगाना के मुसलमानों ने हमेशा की तरह सियासत की कोशिशों पर लब्बैक कहा है। नमाज़-ए-जुमा से पहले और बाद नमाज़-ए-जुमा मसाजिद से तहरीक की आवाज़ बुलंद हुई और मुसलमानों ने सरकारी दफ़ातिर को वफ़ूद की शक्ल में पहोनचकर बी सी कमीशन के ज़रीये मुसलमानों को 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने नुमाइंदगीयाँ पेश कीं।

TOPPOPULARRECENT