Sunday , September 23 2018

साल 2017: 203 आतंकियों को मारने में गई 37 स्थानीय नागरिकों की मौत!

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में इंडियन आर्मी का पिछले काफी समय से ऑपरेशन ऑलआउट चल रहा है। इसके तहत भारतीय सेना को एक तरह से घाटी में आतंकियों के खात्मे के लिए फ्री हैंड मिला पड़ा है। इस ऑपरेशन के तहत भारतीय सेना ने कश्मीर में इस साल के अंदर अभी तक 203 आतंकियों को मार गिराया है।

इस बात की जानकारी मंगलवार को केंद्र सरकार ने संसद में दी। गृहराज्य मंत्री हंसराज अहीर ने बताया कि इस साल 10 दिसंबर तक जम्मू-कश्मीर में 203 आतंकियों को मौत के घाट उतारा जा चुका है, जो कि पिछले 4 साल में सबसे ज्यादा का आंकड़ा है।

इसके अलावा हंसराज अहीर ने बताया कि 203 आतंकियों के साथ-साथ हमारे 75 जवान भी शहीद हुए हैं और 40 स्थानीय नागरिक भी मारे गए हैं। केंद्र सरकार की जानकारी के मुताबिक, पत्थरबाजी की घटनाओं में भी कमी आई है।

आपको बता दें कि 2017 से पहले 2016 में 150 आतंकियों का खात्मा किया गया था। 2015 में 108 और 2014 में 110 आतंकियों को भारतीय सुरक्षबलों ने मार गिराया है। गृहराज्य मंत्री हंसराज अहीर ने लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान बताया कि पूर्वोत्तर में उग्रवादी घटनाओं में 97 लोग मारे गए हैं। इनमें 51 उग्रवादी और सुरक्षा बल के 12 जवान शामिल हैं।

इसके अलावा आंकड़े ये भी चौंकाने वाले हैं कि आतंकियों की मौत के बाद होने वाली हिंसक घटनाओं में आम नागरिकों की भी मौत के आंकड़ों में इजाफा हुआ है। 2017 में 10 दिसंबर तक कश्मीर में 37 स्थानीय नागरिकों की मौत हो गई है, जबकि ये आंकड़ा 2016 में 15, 2015 में 17 और 2014 में 28 था।

इसी क्रम में इस साल कश्मीर में आतंकी घटनाओं में भी इजाफा हुआ है। 10 दिसंबर 2017 तक राज्य में 335 आतंकी घटनाएं हुई हैं, जबकि ये आंकड़ा 2016 में 322 था, 2015 में 208 और 2014 में 222 था।

TOPPOPULARRECENT