Thursday , December 14 2017

सिकंदराबाद में ईरानी होटल की इमारत मुनहदिम, 13 हलाक

हैदराबाद 09 जुलाई: सिकंदराबाद राष्ट्रपति रोड पर वाक़्ये सिटी लाईट होटल की दो मंज़िला इमारत अचानक गिरने कि वजहे से 13 अफ़राद हलाक और 19 ज़ख़मी होगए।

हैदराबाद 09 जुलाई: सिकंदराबाद राष्ट्रपति रोड पर वाक़्ये सिटी लाईट होटल की दो मंज़िला इमारत अचानक गिरने कि वजहे से 13 अफ़राद हलाक और 19 ज़ख़मी होगए।

ये हादसा कल सुबह 6.45 बजे पेश आया। एनी शाहिदीन के बमूजब होटल की इमारत अचानक सुबह गिर पड़ी और इस वाक़िये से इलाके में बेचेनी का माहौल पैदा होगया।

इस वाक़िये की इत्तेला मिलते ही जी एच एमसी स्पेशल स्क्वाड और सेंट्रल इंडस्ट्रीयल सेक्रेटेरिएट फ़ोर्स के फ़ायर फ़ाइटिंग टीम और मुक़ामी पुलिस वहां पहुंच गईं।

मलबे में दबे हुए अफ़राद को बाहर निकालने के लिए हुकूमत ने 6 प्रोक्लीनर और बड़े क्रेंस का इस्तेमाल किया है। बताया जाता हैके रमज़ान उल-मुबारक के मौके पर हलीम की भट्टियां तामीर करने के लिए होटल मालिक ने होटल की छत पर दूलारी ईंट डलवाए और समझा जाता हैके ईंट के वज़न को बर्दाश्त ना करते हुए इमारत गिरगई।

इस 80 साला पुरानी सिटी लाईट होटल एंड बेकरी सिकंदराबाद में मशहूर है और सुबह के औक़ात में ऑटो ड्राईवर और मज़दूर पेशा अफ़राद जियादा तादाद में मौजूद रहते हैं।

जाये हादसे पर सी आई एस एफ़ फ़ायर फ़ाइटिंग टीम ने असरी आलात की मदद से 19 ज़ख़मीयों को मलबे से बाहर निकाला और उन्हें गांधी और दुसरे कॉरपोरेट दवाख़ानों को मुंतक़िल किया गया।

ज़ख़मी होने वाले अफ़राद में कई ज़ख़मीयों की हालत तशवीनाक बताई जाती है। चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी ने हादसे पर पहुंच कर कमिशनर जी एच एमसी टी कृष्णा बाबू से हादसे से मुताल्लिक़ मालूमात हासिल की और राहत कारी इक़दामात में शिद्दत पैदा करने की हिदायत दी।

जय गीता रेड्डी इंचार्ज वज़ीर हैदराबाद और वज़ीर लेबर डी नागेंद्र भी हादसे का मुआइना किया और मुताल्लिक़ा ओहदेदारों को मुतास्सिरीन को फ़ौरी राहत पहुंचाने की हिदायत दी।

तेलुगूदेशम सरबराह एन चन्द्रबाबू नायडू ने भी हादसे का मुआइना किया और मुताल्लिक़ा ओहदेदारों से इस सिलसिले में तफ़सीलात हासिल की।

तेलुगूदेशम रुक्ने क़ानून साज़ कौंसिल मुहम्मद सलीम जी एच एमसी तेलुगूदेशम फ़्लोर लीडर एस सरीनवास रेड्डी और दुसरें ने भी हादसे का मुआइना किया।

लाशों और ज़ख़मीयों को मुंतक़िल करने के लिए कई 108 एम्बुलेंस इस्तेमाल किए गए लेकिन अवाम के हुजूम के सबब ट्रैफ़िक बुरी तरह मुतास्सिर होगई थी।

कमिशनर पुलिस हैदराबाद अनुराग शर्मा और दुसरे आला पुलिस ओहदेदार राष्ट्रपति रोड पहुंच कर वहां का मुआइना किया और ट्रैफ़िक के रुख़ को मोड़ने की हिदायत दी जिस की वजह से ज़ख़मीयों को मलबे से बाहर निकालने का काम तेज़ी से किया गया। इस हादसे में होटल के मालिक हुस्न बल्लू की का बेटा सयद मुस्तफा बल्लू की भी हलाक होगए।

बताया जाता हैके मुस्तफा आज सुबह हादसे से चंद मिनट पहले होटल के काउंटर पर बैठे थे कि ये वाक़िया पेश आया। हलाक होने वाले अफ़राद का ताल्लुक़ अडीशा उत्तरप्रदेश के अलावा निज़ामबाद नलगेंडा मेदक और रियासत के दुसरे मुक़ामात से हैं।

मलबा में दबे मुतास्सिरीन को बाहर निकालने की कोशिशों में उस वक़्त ख़लल पेश आया जब मुक़ामी अवाम हादसे को देखने के लिए बाडि तादाद में जमा होगईं।

पुलिस ने हुजूम को मुंतशिर करने के लिए हल्का सालाठी चार्ज भी किया। कमिशनर पुलिस अनुराग शर्मा मलबे में दबे मुतास्सिरीन को बाहर निकालने की निगरानी की।

ज़ख़मीयों को गांधी हॉस्पिटल मुंतक़िल किया गया था जहां पर बेहतर ईलाज ना होने के सबब रिश्तेदारों ने दवाख़ाना में एहतेजाज किया और ज़ख़मीयों की इयादत के लिए पहुंचने वाले चीफ़ मिनिस्टर के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी की।

होटल गिरने के वाक़िये से मुताल्लिक़ महा निकाली पुलिस ने होटल इंतेज़ामीया के ख़िलाफ़ लापरवाही का एक मुक़द्दमा दर्ज करलिया है। इन्सपेक्टर महा निकाली के सत्य नाराय‌ना ने बताया कि इबतिदाई तहक़ीक़ात में उन्हें ये पता चला हैके होटल इंतेज़ामीया की लापरवाही के सबब ये हदसा पेश आया है और इस सिलसिले में तहक़ीक़ात जारी है।

TOPPOPULARRECENT