Sunday , December 17 2017

सितंबर या अक्टूबर में वस्त मुद्दती चुनाव का इमकान

सदर जनता पार्टी डाक्टर सुब्रामणियम स्वामी ने मर्कज़ में गैर कारकरद नज़म-ओ-नसक़ पर कांग्रेस और यू पी ए हुकूमत पर शदीद तन्क़ीद करते हुए कहा कि मुल्क में ग़ालिबन इस साल सितंबर या अक्टूबर में वस्त मुद्दती इंतेख़ाबात हो सकते हैं । सो

सदर जनता पार्टी डाक्टर सुब्रामणियम स्वामी ने मर्कज़ में गैर कारकरद नज़म-ओ-नसक़ पर कांग्रेस और यू पी ए हुकूमत पर शदीद तन्क़ीद करते हुए कहा कि मुल्क में ग़ालिबन इस साल सितंबर या अक्टूबर में वस्त मुद्दती इंतेख़ाबात हो सकते हैं । सोमाजी गौड़ा प्रेस कलब में प्रेस कान्फ़्रैंस से ख़िताब करते हुए स्वामी ने कहा कि उत्तरप्रदेश पंजाब और उत्तराखंड में होरहे असेंबली इंतेख़ाबात में कांग्रेस को बदतरीन शिकस्त होने वाली है,

तीन रियासतों के चुनावि नताइज सदारती चुनाव पर असर अंदाज़ होंगे और सदर जमहूरीया प्रतिभा पाटिल की मीआद ख़तम होने पर होने वाले सदारती चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार को शिकस्त का मुंह देखना पड़ेगा । डाक्टर स्वामी ने इल्ज़ाम लगाया कि परनब मुकर्जी और जय राम रमेश के सिवा मर्कज़ी काबीना में बेशतर वुज़ोरा नाकारा हैं । उन्हों ने राय दही में एलकटरानिक वोटिंग मशीन के इस्तेमाल पर तन्क़ीद की और कहा कि कांग्रेस इसे क़ायम रखे हुए है क्यों कि उसे अपने फ़ायदा के लिए इस में हेर फेर का फ़न आता है ।

डाक्टर स्वामी ने कहा कि एलकटरानिक वोटिंग मशीन इजाद करने वाले मुल्क जापान में तक राय दही के लिए इस का इस्तिमाल नहीं किया जाता इसे में इस का इस्तिमाल क्यों कर किया जा सकता है ।

उन्हों ने रिमार्क किया कि कांग्रेस कश्मीर पाकिस्तान को दे सकती है लेकिन वो तेलंगाना अवाम को तेलंगाना देने तय्यार नहीं है । उन्हों ने सवाल किया कि सोनिया गांधी की अलालत के बारे में राज़दारी क्यों बरती जा रही है । अवाम को ये जानने का हक़ है कि सोनिया गांधी को किस किस्म की बीमारी है ।

TOPPOPULARRECENT