सिमी सदस्य इनकाउंटर मामला : जेल मंत्री ने चूक होने की बात स्वीकारा

सिमी सदस्य इनकाउंटर मामला :  जेल मंत्री ने चूक होने की बात स्वीकारा
Click for full image

भोपाल : भोपाल के सेंट्रल जेल से आठ सिमी सदस्यों के भागने व उनका इनकाउंटर किये जाने के मामले में मध्यप्रदेश के जेल मंत्री कुसुम महेंदले ने आज स्वीकार किया कि उनके विभाग की ओर से लापरवाहियां हुईं हैं. उन्होंने कहा कि जेल परिसर के अंदर कुछ सीसीटीवी कैमरे काम नहीं कर रहे थे.

उल्लेखनीय है कि रविवार व सोमवार की मध्य रात्रि भोपाल सेंट्रल जेल से सिमी के आठ सदस्य फरार हो गये थे, जिन्हें सोमवार के दिन के साढ़े दस बजे के करीब भोपाल से 10 किलोमीटर दूर एक पहाड़ी पर इनकाउंटर में पुलिस बल व एसटीएफ ने मार गिराया. इसके बाद भोपाल पुलिस ने प्रेस कान्फ्रेंस कर पूरे मामले की जांच करने की बात कही थी. पुलिस ने यह भी कहा था कि उनके पास से दो देसी कट्टे व तीन चाकू मिले हैं.

उधर, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज इस घटना में मारे गये जेल के हेड कांस्टेबल रमाशंकर यादव के घर पर पहुंचे. उन्होंने उनके परिजनों को ढांढस बंधाया. रमाशंकर यादव को आज अंतिम विदाई दी जा रही है.

Top Stories