Friday , December 15 2017

सियासतदानों पर इनकम टैक्स की नजर

बिहार-झारखंड में बड़े-छोटे क़ायेदीनों की तरफ से सियासी मक़सद से पैसों का लेन-देन करने पर उनके खिलाफ इनकम टैक्स डिपार्टमेंट कार्रवाई करेगा। आगामी पार्लियामानी इंतिख़ाब को लेकर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, बिहार-झारखंड हेड क्वार्टर की त

बिहार-झारखंड में बड़े-छोटे क़ायेदीनों की तरफ से सियासी मक़सद से पैसों का लेन-देन करने पर उनके खिलाफ इनकम टैक्स डिपार्टमेंट कार्रवाई करेगा। आगामी पार्लियामानी इंतिख़ाब को लेकर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, बिहार-झारखंड हेड क्वार्टर की तरफ से सियासी पार्टियों और सियासतदानों की सरगरमियों पर नजर रखने की तैयारी शुरू कर दी गयी है। इस सिलसिले में मर्कज़ी खज़ाना वज़ीर ने खत लिख कर अफसरों की मौजूदगी, मॉनीटरिंग सेल की तशकील और दीगर अहम मौजू को पूरा करने को लेकर हिदायत दिया है। साथ ही इस सिलसिले में पहले से मौजूद वसायलों की जानकारी मांगी है।

एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन और पार्टी दफ्तरों में अफसर होंगे तैनात :

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के सरकारी ज़राये ने बताया कि इसके लिए पटना, रांची और बोधगया एयरपोर्ट पर अफसरों की तैनाती की जायेगी। इसके साथ ही अहम रेलवे स्टेशनों और पार्टी हेड क्वार्टर में भी इनकम टैक्स के अफसर तैनात रहेंगे। पटना, रांची, जमशेदपुर, मुजफ्फरपुर और भागलपुर समेत अहम शहरों के होटलों में ठहरनेवाले सियासतदानों पर भी नजर रखी जायेगी।

आम लोग भी दे सकेंगे इत्तिला
सियासतदानों की तरफ से अनाप-शनाप तरीके से पैसे खर्च कर वोटरों को मुतासीर करने की सरगरमियों की जानकारी आम लोगों की तरफ से भी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को दी जा सकेगी। उन इत्तिलाअत की बुनियाद पर फौरी कार्रवाई करने के लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से अफसरों को पहले ही तरबियत किया जायेगा।

रखा जायेगा खर्च का हिसाब इनकम टैक्स ज़राये के मुताबिक बड़े क़ायेदीनों की तरफ से की जाने वाली जहाज महज़, उनकी पार्टी की तरफ से मुनक्कीद की जानेवाली रैली और आम सभाओं पर होने वाले खर्च का ब्योरा जुटाया जायेगा। ज़राये ने बताया कि गुजिशता दिनों पटना में हुई हकूक रैली, तबदीली रैली और हुंकार रैली को लेकर सियासी दलों से हिसाब-किताब मांगा गया है।

TOPPOPULARRECENT