Friday , December 15 2017

सियासत (question bank) की तक़सीम से हौसला अफज़ाई

नंदिपेट, 05 फरवरी: रियासत में उर्दू मीडियम तलबा के एस एस सी नताइज हौसला शिकन बरामद हो रहे थे। नताइज को बेहतर बनाने के लिए रोज़नामा सियासत की जानिब से गुज़िशता 13 बरसों से question bank की इशाअत अमल में आरही है। जिस से नताइज हौसला अफ़्ज़ा-ए-बरामद हो

नंदिपेट, 05 फरवरी: रियासत में उर्दू मीडियम तलबा के एस एस सी नताइज हौसला शिकन बरामद हो रहे थे। नताइज को बेहतर बनाने के लिए रोज़नामा सियासत की जानिब से गुज़िशता 13 बरसों से question bank की इशाअत अमल में आरही है। जिस से नताइज हौसला अफ़्ज़ा-ए-बरामद हो रहे हैं।

इदारा सियासत की हाल ही में शाय की गई किताब जोकि मॉडल टेस्ट पेपर्स पर मुश्तमिल है। उर्दू मीडियम तलबा के नताइज को बेहतर बनाने में मुआविन साबित होगी। इन ख़्यालात का इज़हार टीचर्स तंज़ीम PRTU के ज़िला नायब सदर और हेडमास्टर ज़िला परिषद हाई स्कूल उर्दू मीडियम नंदिपेट जनाब सय्यद अहमद बुख़ारी ने किया।

जोकि तलबा में इदारा सियासत के मॉडल पेपर्स की तक़सीम के जलसे से मुख़ातिब थे। उन्होंने तलबा पर ज़ोर दिया कि वो सख़्त मेहनत करें और सालाना इमतिहानात में इमतियाज़ी निशानात हासिल करें। इस मौक़े पर मुस्लिम मेनारेटी कमेटी नंदिपेट‌ (MMC) के सदर जनाब शेख कलीम अहमद ने उम्मीद ज़ाहिर की कि तलबा आला निशानात हासिल करके गावं और ज़िले का नाम रोशन करेंगे।

उन्होंने रोज़नामा सियासत की जानिब से उर्दू मीडियम तलबा में मुफ़्त किताबों की तक़सीम पर अपनी ख़ुशी-ओ-मुसर्रत का इज़हार किया है और माह मार्च में मुनाक़िद शुदणी सालाना इमतिहानात में मज़कूरा स्कूल से अव्वल मुक़ाम हासिल करने वाले तालिब-ए-इल्म को एक हज़ार रुपये नक़द और दोम मुक़ाम हासिल करने वाले तालिब-ए-इल्म को पाँचसौ रुपये नक़द मुस्लिम मेनारेटी कमेटी की जानिब से एक यादगार और परासर ख़ुसूसी तक़रीब में दिए जाएंगे ताकि तलबा हौसलाअफ़्ज़ाई होसके।

इस मौक़े पर मुहम्मद इलयास स्कूल अस्सिटैंट ने बताया कि देहातों में तलबा की अक्सरियत मआशी एतबार से पसमांदा होती है। जोकि तालीमी सामग्री और दीगर किताबें खरीदने से क़ासिर रहते हैं। इन हालात में तलबा के लिए मज़कूरा किताब इमतिहानात की तयारी में मुआविन साबित होगी। उन्होंने उम्मीद ज़ाहिर की कि तलबा की अक्सरियत 90 फ़ीसद से ज़ाइद निशानात हासिल करेगी । उन्होंने इस एकान् का इज़हार किया कि तलबा एस एस सी में कामयाबी के बाद अपनी तालीम को आगे जारी रखेंगे। उन्हों ने एडीटर सियासत से इज़हार-ए-तशक्कुर किया।

TOPPOPULARRECENT