Monday , December 18 2017

सिरसा में हालात मामूल, कर्फ्यू हटा

सिरसा जिले में मामूल हालात को देखते हुए कर्फ्यू हटा लिया गया है। कमिशनर डॉ. जे.

सिरसा जिले में मामूल हालात को देखते हुए कर्फ्यू हटा लिया गया है। कमिशनर डॉ. जे. गणेशन ने बताया कि अब रात में भी कर्फ्यू नहीं रहेगा। इसके साथ-साथ सिक्योरिटी की नज़र से धारा 144 लागू रहेगी। हालांकि जिले की सभी तालीमी इदारे 30 नवंबर तक बंद रखने के हुक्म दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि अगर कोई खिलाफवर्जी करता है तो इंतेज़ामिया उससे सख्ती से निपटेगा।

जुमेरात को कमिशनर डॉ. जे. गणेशन और एसएसपी डॉ. राजश्री सिंह ने आफीसरो के साथ शहर का दौरा कर हालात का जायजा लिया और पूरे जिले के सिक्योरिटी की रिपोर्ट ली। बाद में नगर की हालात की जायज़ा लिया जिसके बाद कर्फ्यू हटाने का फैसला किया गया।

डॉ. गणेशन ने बताया कि जुमेरात को भी जिले के आने वाले सभी रास्तों पर नाकेबंदी की गई और सभी गाड़ियों पर नजर रखी जा रही है ताकि कोई भी गैर समाजी अनासिर (असामाजिक तत्व) शहर में न आने पाए। उन्होंने बताया कि शहर में आधा दर्जन से भी ज़्यादा नाके लगाए गए।

इंतेज़ामिया की तरफ से पूरे जिले को 16 सेक्टरों में बांटा गया। सभी सेक्टरों में 15 ड्यूटी मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं सभी ड्यूटी मजिस्ट्रेट के साथ दो-दो दर्जन पुलिस मुलाज़मीन लगाए गए हैं और उन्हें मुताल्लिक इलाको में ही रहने के लिए कहा गया है। उन्होंने बताया कि पैरामिलेट्री फोर्सेस ( अर्द्धसैनिक बलों) और हरियाणा पुलिस की टुकड़ी पूरे शहर में गश्त करती रहेंगी। इसके साथ-साथ हरियाणा पुलिस की छह कंपनियां को रिजर्व में रखा गया है। उन्होंने बताया कि अर्द्धसैनिक बलों की कंपनियां जिले में रहेंगी।

कलेक्टर ( Collector) ने हुक्म जारी कर सभी एसडीएम, तहसीलदार, बीडीपीओ से कहा है कि वे अपने हेड क्वार्टर पर रहना यकीनी करें और पुलिस थानों के साथ राबिता रखते हुए अपने-अपने वर्क एरीया पर नजर रखें और इंफार्मेशन जमा करें।

अगर कहीं भी धारा 144 की खिलाफवर्जी की इत्तिला व आवामी सामान को नुकसान पहुंचने की इत्तिला प्राप्त हो तो वे शरारती अनासिर के खिलाफ तुरंत कार्यवाही करें। उन्होंने सभी उपमंडलाधीशों से कहा है कि वे रोज़ाना की रिपोर्ट शाम तक जिला मुख्यालय पर भिजवाएं।

TOPPOPULARRECENT